Custom Heading

विहिप गोरक्षा आयाम की प्रांतीय बैठक पांचजन्य भवन में संपन्न
गुवाहाटी, 26 सितम्बर (हि.स.)। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) गोरक्षा आयाम की प्रांतीय बैठक रविवार को पांच
VHP


VHP


VHP


गुवाहाटी, 26 सितम्बर (हि.स.)। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) गोरक्षा आयाम की प्रांतीय बैठक रविवार को पांचजन्य भवन में गो पूजन, गौमाता की आरती के साथ संपन्न हुई। उद्घाटन सत्र में विहिप के क्षेत्रीय संगठन मंत्री दिनेश तिवारी ने गोवंश के महत्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि गाय का पालन हम नहीं करते बल्कि, गाय हमारा पालन करती है। यह बात गोपालक के मन में बैठनी चाहिए।

विहिप गोरक्षा केंद्रीय मंत्री एवं पालक पूर्वोत्तर, असम क्षेत्र उमेश चंद्र पोरवाल ने विहिप गोरक्षा आयाम के बारे में विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि विहिप गोरक्षा द्वारा संपूर्ण देश में भारतीय गोवंश रक्षण संवर्धन परिवार, गोवंश हत्या एवं मांस निर्यात निरोध परिषद, राष्ट्रीय गोरक्षा आंदोलन समिति, भारतीय विज्ञान परीक्षा सहित उक्त चारों समितियों द्वारा गोरक्षा का कार्य सम्पन्न हो रहा है।

प्रान्त, विभाग, जिला एवं प्रखण्डों में टीम बनाकर कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण वर्ग करवाना व अपने क्षेत्र में गौशाला, गोरक्षा के क्षेत्र में कार्य करने वाले संगठनों, गो उत्पाद निर्माण करने वाले केंद्रों, गो उत्पाद बिक्री केंद्रों की जानकारी रखने के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि कर्जमुक्त किसान, रोजगार युक्त नौजवान, गो दुग्ध युक्त भारत, स्वस्थ भारत निर्माण के लिए गोसेवा, गो संरक्षण, गो संवर्धन जरुरी है। साथ ही कहा कि प्रांत गो विज्ञान परीक्षा से समाज को गो का वैज्ञानिक महत्व, गो महिमा की अनेक महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त होती हैं।

प्रांत सह गोरक्षा प्रमुख अंकुर बेजबरुवा ने बताया कि गुजरात के अहमदाबाद स्थित बंशीगीर गौशाला से गो कृपा अमृतम् का प्रशिक्षण प्राप्त करके आये हैं। उन्होंने गो कृपा अमृतम् के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्रस्तुत की। उन्होंने बताया कम समय में देश के 22 राज्यों में गो कृपा अमृतम् द्वारा सफलता से किसान खेती कर रहे हैं। असम के सभी जिलों में गो कृपा अमृतम् द्वारा रसायन मुक्त खेती करने को लेकर किसानों की अक्टूबर माह से कार्यशाला आयोजित कर निःशुल्क गो कृपा अमृतम् विहिप गोरक्षा करवाया है। इस विधि से गो कृपा अमृतम् तैयार हो रहा है।

भारतीय गोवंश रक्षण संवर्धन पूर्वोत्तर प्रांत अध्यक्ष विनोद क्याल ने गोरक्षा संगठन द्वारा केंद्र प्रकाशित मासिक पत्रिका गो सम्पदा के पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा हम सब गोरक्षा से संबंधित कार्यकर्ताओं के यहां यह पत्रिका पहुंचनी चाहिए। देशभर गो से संबंधित समाचार प्रकाशित होते हैं। इस दौरान कोरोना काल के दौरान अनेक कार्यकर्ताओं एवं परिवारजन आदि गोलोकवासी हुए, उनके प्रति भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की गई। शान्ति पाठ से बैठक का समापन हुआ।

बैठक में विहिप प्रांत मंत्री पल्लव परासर, सह मंत्री बृज ज्योति शर्मा, प्रान्त कोषाध्यक्ष रमेश अग्रवाल, सह कोषाध्यक्ष नटवरलाल अग्रवाल, भारतीय गोवंश रक्षण संवर्धन पूर्वोत्तर मंत्री मनोज केडिया, विहिप उत्तर पूर्व प्रान्त सह संगठन मंत्री हारसिंग तेरान एवं समाजसेवी धर्मप्रेमी अनिल रेनवा तथा लखीमपुर जिला से डिंपी पारीक, अरुपज, जोरहाट से हिमांशु दास, होजाई से धर्मेन्द्र, कार्बी आंगलोंग से विनोद ओझा, मोरीगांव से चन्दन शर्मा, बरपेटा से रंजीत राय, उदालगुडी से संजय, गुवाहाटी से मनोज बरुवा, निर्मल टाटे, राकेश रंजन आदि जिला गोरक्षा प्रमुख कार्यकर्ता उपस्थित थे। बैठक का संचालन प्रांत गोरक्षा प्रमुख सुरेंद्र गोयल व अंकुर बेजबरुवा ने किया।

हिन्दुस्थान समाचार/अरविंद


 rajesh pande