आरबीआई की मौद्रिक समीक्षा बैठक बुधवार से, रेपो दर यथावत रहने की संभावना
नई दिल्ली, 02 अप्रैल (हि.स.)। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) की चालू वित्त वर्ष 2024-25 की पहली तीन
आरबीआई के लोगो का फाइल फोटो 


नई दिल्ली, 02 अप्रैल (हि.स.)। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) की चालू वित्त वर्ष 2024-25 की पहली तीन दिवसीय मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की समीक्षा बैठक तीन अप्रैल, बुधवार को शुरू होगी। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास एमपीसी बैठक की नतीजे की घोषणा पांच अप्रैल को करेंगे। हालांकि, रिजर्व बैंक मौद्रिक नीति की समीक्षा में एक बार फिर नीतिगत दर को यथावत रख सकता हैं।

आर्थिक मामलों के जानकारों ने मंगलवार को कहा कि वित्त वर्ष 2024-25 की मौद्रिक नीति समिति की पहली समीक्षा बैठक में आरबीआई एक बार फिर नीतिगत रेपो दर को यथावत रख सकता हैं। रिजर्व बैंक गवर्नर शक्तिकांत दास की अध्यक्षता में होने वाली एमपीसी की तीन दिवसीय समीक्षा बैठक तीन अप्रैल से शुरू होगी। आरबीआई गवर्नर बैठक के नतीजे का ऐलान 5 अप्रैल, 2024 को करेंगे।

उल्लेखनीय है कि आरबीआई ने पिछली बार फरवरी 2023 में नीतिगत ब्याज दर रेपो रेट बढ़ाकर 6.50 फीसदी कर दिया था। रिजर्व बैंक ने लगातार छह द्विमासिक मौद्रिक नीति समिति की समीक्षा बैठक में इसे अभी तक यथावत रखा है।

हिन्दुस्थान समाचार/प्रजेश शंकर/प्रभात