चक्षु पोर्टल और डिजिटल बौद्धिक मंच का शुभारंभ
इटानगर, 04 मार्च (हि.स.)। केंद्रीय रेल, संचार और इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री, अश्विन
चक्षु पोर्टल और डिजिटल बौद्धिक मंच का शुभारंभ


इटानगर, 04 मार्च (हि.स.)। केंद्रीय रेल, संचार और इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री, अश्विनी वैष्णव ने आज नई दिल्ली से चक्षु पोर्टल और डिजिटल बौद्धिक मंच का शुभारंभ किया। कार्यक्रम में अन्य राज्यों के साथ ही अरुणाचल प्रदेश दूरसंचार विभाग ने भी भाग लिया।

वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कार्यक्रम में भाग लेने के बाद, देवेन्द्र सिंह, उप निदेशक दूरसंचार विभाग, इटानगर ने कहा कि साइबर अपराध को देखते हुए सरकार साइबर अपराधों को रोकने के लिए विभिन्न उपाय कर रही है। दूरसंचार नेटवर्क में घोटालों को रोकने के लिए, और केंद्रीय मंत्री ने आज चक्षु पोर्टल लॉन्च किया।

इस पोर्टल के लॉन्च होने के बाद अगर किसी के पास संदिग्ध कॉल या संदिग्ध मैसेज आते हैं तो आप इस पोर्टल पर जाकर शिकायत कर सकते हैं।

चक्षु एक ऑनलाइन सुविधा है जो नागरिकों को संदिग्ध संचार की रिपोर्ट करने में सक्षम बनाएगी जो साइबर अपराध, वित्तीय धोखाधड़ी, नकली ग्राहक सेवाओं का प्रतिरूपण/लॉटरी की पेशकश, ऋण की पेशकश, नौकरी की पेशकश, मोबाइल टावर की स्थापना, सेवाओं का वियोग या केवाईसी अपडेट ऋण आदि या किसी अन्य दुरुपयोग के लिए है। रिपोर्टिंग दूरसंचार विभाग (डीओटी) के संचार साथी पोर्टल (डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू.संचारसाथी.जीओवी.इन) पर की जाएगी।

उन्होंने बताया कि आज केंद्रीय मंत्री ने हमारी डिजिटल सुरक्षा प्रणाली को और अधिक सुरक्षित बनाने के लिए डिजिटल इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म (डीआईपी) भी लॉन्च किया है और यह प्लेटफॉर्म टीएसपी हितधारकों के बीच खुफिया जानकारी साझा करने और समन्वय को सक्षम करके दूरसंचार संसाधनों के दुरुपयोग को रोकने के लिए विभाग द्वारा बनाया गया है।

हिन्दुस्थान समाचार /तागू/अरविंद