मंडी के ऐतिहासिक घंटाघर में खुला बुक कैफे, मेयर विरेंद्र भट्ट ने किया शुभारंभ
मंडी, 04 मार्च (हि. स.)। मंडी के इंदिरा मार्किट स्थित ऐतिहासिक घंटाघर में बुक कैफे का लोकार्पण मेयर
मंडी के ऐतिहासिक घंटाघर में खुला बुक कैफे, मेयर विरेंद्र भट्ट ने किया शुभारंभ


मंडी, 04 मार्च (हि. स.)। मंडी के इंदिरा मार्किट स्थित ऐतिहासिक घंटाघर में बुक कैफे का लोकार्पण मेयर विरेंद्र भटट ने किया। यह अपनी तरह का पहला बुक कैफे है जिसका सीधा लाभ शहर के लेखकों, साहित्यकारों, चित्रकारों व प्रभुद्ध पाठकों को मिलेगा। इस अवसर पर नगर के प्रमुख लेखक, साहित्यकार ,पत्रकार व विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधी उपस्थित रहे। इस अवसर पर नगर निगम के आयुक्त एच.एस.राणा महापौर महोदय का स्वागत किया तथा इस उपलक्ष्य में एक लघु जनवार्ता कार्यक्रम भी आयोजित किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महापौर ने बताया कि नगर निगम द्वारा विकास के दायरे को बढ़ाते हुए समाज के हर तबके का सार्वभौमिक विकास सुनिश्चित किया जा रहा है। जिसमें मात्र निर्माण कार्यों से कहीं आगे बढ़कर समाज के बौद्धिक व वैचारिक विकास के बारे कार्य किए जा रहे हैं ताकि हमारी लोक संस्कृति एवंम संस्कार कायम रह सकें। इसी कड़ी में ऐतिहासिक घंटाघर में बुक कैफे का लोकाअर्पण किया गया है। जिसका उद्देश्य सुधी पाठकों को एक शांत व आरामदायक स्थान पठन व लेखन कार्य करने केलिए मिल सके। आगे भी जल्द ही युवा वर्ग हेतु भी नगर निगम द्धारा शहर के विभिन्न स्थानों पर पुस्तकालय, पाठनालय स्थापित किए जाएंगे। वहीं पर आयुक्त एचएस राणा ने कहा कि बुक कैफे की सोच को आज जमीनीस्तर पर स्थापित हुई है। इसके लिए एक लंबी प्रक्रिया अमल में लाई गई ह।ै जिसमें नगर निगम के माननीय महापौर, उपमहापौर व समस्त पार्षदों ने एक जुट होकर इस उपक्रम का सर्मथन किया है। इसके साथ ही शहर के सहित्यकारें, लेखकों, वरिष्ठ पत्रकारों सभी ने हमारे इस उपक्रम का सर्मथन किया है तथा भविष्य में भी इस बुक कैफे के सफल संचालन के लिए सहयोग का आश्वासन दिया। इस हिमाचल के वरिष्ठ साहित्यकार के.के. नुतन को महापौर द्वारा स मानित किया गया। जबकि उपस्थित लेखकों व सहित्यकारों द्वारा बुक कैफे के लिए अपनी कृतियां महापौर को भेंट की।

हिन्दुस्थान समाचार/मुरारी/उज्जवल