एसआई भर्ती डमी परीक्षार्थी मामलाः एसओजी ने ट्रेनिंग ले रहे पंद्रह एसआई को पकड़ा
जयपुर, 4 मार्च (हि.स.)। स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) की टीम एसआई भर्ती परीक्षा 2021 में डमी परीक्षार
एसआई भर्ती परीक्षा मामलाः एसओजी ने आरपीए में ट्रेनिंग ले रहे बारह एसआई को पकड़ा


जयपुर, 4 मार्च (हि.स.)। स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) की टीम एसआई भर्ती परीक्षा 2021 में डमी परीक्षार्थी बैठने के मामले में सोमवार सुबह राजस्थान पुलिस अकादमी (आरपीए) पहुंची और टीम ने वहां ट्रेनिंग ले रहे बारह एसआई को पकड़ा। साथ ही एक एसआई को किशनगढ़ ट्रेनिंग सेंटर तो एक-एक को भीनमाल और गुढ़ामलानी से हिरासत में लिया। पन्द्रह एसआई को टीमें जयपुर एसओजी मुख्यालय में लेकर आई है। अब पूछताछ की जा रही है। जानकारी मिली है कि इनमें इस बैच का टॉपर भी शामिल हैं।

गौरतलब है कि एसओजी को 29 फरवरी को गिरफ्तार जेईएन भर्ती पेपर लीक के मास्टरमाइंड जगदीश विश्नोई (41) से हुई पूछताछ के बाद यह कार्रवाई की। जगदीश ने एसआई भर्ती 2021 में भी तमाम कैंडिडेट्स को पेपर उपलब्ध कराए थे। आरपीए में ट्रेनिंग कर रहे एसआई संदिग्ध पाए गए। उनके दस्तावेज की जांच शुरू की गई। जांच एजेंसी का मानना है कि पेपर लीक कर या डमी कैंडिडेट बैठाकर ऐसे कैंडिडेट परीक्षा में पास हुए थे। आरपीए डायरेक्टर से परमिशन के बाद एसओजी की टीम आरपीए ट्रेनिंग सेंटर पहुंची थी।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक एसओजी-एटीएस वीके सिंह ने बताया कि 2 फरवरी को डालूराम को आरपीए से गिरफ्तार किया गया था। डालूराम ने एसआई भर्ती-2021 परीक्षा में अपनी जगह हरचंद उर्फ हरीश को बैठाया था। पुलिस ने हरचंद को सांचैर से गिरफ्तार किया था। डालूराम से हुई पूछताछ में कई अहम जानकारी सामने आई है। बाद में डालूराम फिजिकल में पास हो गया था। आरपीए में ट्रेनिंग ले रहा था। डालूराम से मिले इनपुट के आधार पर एक्शन शुरू हो चुका है। इससे ट्रेनिंग कर रहे तमाम कैंडिडेट परेशानी में आएंगे। एसओजी की टीम संदिग्धों से पूछताछ करने आरपीए पहुंच कर 13 लोगों को पकड़ा गया। पुलिस मुख्यालय को भी इस विषय को लेकर अवगत कराया गया है। आने वाले दो दिन में एसओजी इस विषय पर बड़ा खुलासा करेगी।

गिरफ्तारी के बाद डालूराम से हुई पूछताछ में सामने आया है कि आरपीए में ट्रेनिंग ले रहे 670 ट्रेनी (प्रशिक्षु) एसआई में से करीब 25 फर्जी तरीके से परीक्षा में पास हुए हैं। डालूराम और पेपर लीक के मास्टरमाइंड जगदीश विश्नोई से मिले इनपुट के बाद एसओजी ने कार्रवाई की है। एसओजी से मिली जानकारी के अनुसार मौजूदा समय में पेपर लीक से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े आरोपितों ने देश छोड़ कर नेपाल का रुख कर लिया है। एसओजी ने इन बदमाशों को पकड़ने के लिए पुलिस मुख्यालय को सूची दी है। ये ऐसे बदमाश हैं जो जेल जाने से बचने के लिए विदेश भाग गए हैं। इन लोगों का लुकआउट नोटिस भी जारी कराने की तैयारी हो रही है।

हिन्दुस्थान समाचार/ दिनेश/संदीप