भारत-नेपाल अंतरराष्ट्रीय सीमा पर लाखों की मूर्तियां पकड़ीं, चालक गिरफ्तार
बनबसा (चंपावत), 04 मार्च (हि.स.)। पुलिस ने भारत-नेपाल अन्तराष्ट्रीय सीमा पर स्थित शारदा बैराज चौकी क
बराबर मूर्तियां के साथ पुलिस टीम


बराबर मूर्तियां के साथ पुलिस टीम


बनबसा (चंपावत), 04 मार्च (हि.स.)। पुलिस ने भारत-नेपाल अन्तराष्ट्रीय सीमा पर स्थित शारदा बैराज चौकी क्षेत्र में एक कैंटर से हिन्दू देवी देवताओं की मूर्तियां बरामद की हैं। पुलिस ने कैंटर चालक को गिरफ्तार करने के साथ ही मूर्तियां जब्त कर ली हैं। सभी को कस्टम के सुपुर्द किया गया है। पूछताछ में नेपाल से लाया जा रहा माल बनबसा के एक ट्रांसपोर्ट का होना प्रकाश में आया है। मूर्तियों की कीमत 10 लाख रुपये आंकी जा रही है।

एसपी अजय गणपति के निर्देशानुसार तथा क्षेत्राधिकारी चम्पावत/टनकपुर के पर्यवेक्षण में जनपद चम्पावत के विभिन्न थाना क्षेत्रान्तर्गत लगने वाली भारत-नेपाल अन्तरराष्ट्रीय सीमा पर तस्करी व अवैध गतिविधियों की रोकथाम को लेकर सभी थाना प्रभारियों को निर्देशित किया गया है। इसी क्रम में सोमवार को बनबसा थाना क्षेत्र की शारदा बैराज चौकी क्षेत्र में एसओ बनबसा लक्ष्मण सिंह जगणवा के पर्यवेक्षण में तथा चौकी प्रभारी ललित पांडेय व व एएचटीयू प्रभारी सुरेन्द्र सिंह खड़ायत के नेतृत्व में चौकी शारदा बैराज एवं एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम द्वारा वाहन चेकिंग के दौरान नेपाल राष्ट्र से भारत राष्ट्र में आये वाहन कैंटर यूपी14केटी/0757 को चैकिंग के लिए शारदा बैराज चौकी के पास रोका गया। जिसे चालक नवरत्न पुत्र बज्जू सिंह 52 वर्ष, निवासी- मीरपुर हिंद, थाना लोनी, जिला गाजियाबाद-उत्तर प्रदेश चल रहा था।

कैंटर जिसे पिछली साइड से पूर्णता लॉक्ड किया हुआ था को खोलकर चैक किया गया तो कैंटर के पिछले हिस्से से 01 गत्ते की पेटी और काले रंग के बड़े बैग में से पीतल / तांबा धातु की भगवान बुद्ध की मूर्तियां, हिन्दू देवी की प्रतिमाएं, बौद्ध स्तूप, कुल- छोटी-बड़ी 158 मूर्तियां बरामद हुईं। जिस संबंध में वाहन चालक से पूछताछ की गई तो, इसके द्वारा कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दिया गया और न ही बरामद सामान के सम्बन्ध में कोई वैध कागजात मौके पर प्रस्तुत किए गये। बरामद माल की अंतरराष्ट्रीय कीमत लगभग 10 लाख होना प्रकाश में आया है। बरामद सामान व कैंटर को कब्जे पुलिस लेकर सीजर रिपोर्ट तैयार की गई एवं नियमानुसार आवश्यक वैधानिक कार्यवाही हेतु समस्त बरामद माल मय सीजर रिपोर्ट व वाहन चालक नवरत्न को कस्टम विभाग बनबसा के सुपुर्द किया गया ।

पूछताछ में कैंटर चालक ने बताया कि वह आज सुबह लगभग 8:30 बजे भारत से नेपाल कपड़े का सामान लेकर गया था। वापसी में जब वह गड्डा चौकी (नेपाल राष्ट्र) भंसार के पास पहुंचा तो वहां उसे बनबसा जनपद चमपावत निवासी शमसुल (जोकि बनबसा में ट्रान्सपोर्ट का काम करता है) नामक व्यक्ति मिला। जिसे वह पहले से ही जानता है। शमसुल ने ही उसे सामान बॉर्डर पार करने के लिए दिया था। पूछताछ में प्रकाश में आये शमसुल नामक व्यक्ति के विरुद्ध नियमानुसार वैधानिक कार्रवाई की जायेगी।

बरामदा माल का विवरण-

1-शाक्य देव मूर्ति—(01)

2-हिन्दू देवी की मूर्तियां -(13)

3-भगवान गौतम बुद्ध मूर्तियां -(02)

4-बौद्ध स्तूप–05 (बड़ी मूर्तियां)

5-बौद्ध स्तूप–05 ,(मीडियम साइज)

6-बौद्ध स्तूप 12 (छोटा साइज)

7-गुरु प्रतिमा गौतम बुद्ध– (20)

8-गौतम बुद्ध मूर्तियां—(100)

9-(एक वाहन कैंटर उपरोक्त)

बरामदा माल की अंतरराष्ट्रीय कीमत- लगभग ₹10 लाख होना प्रकाश में आया है।

हिन्दुस्थान समाचार/राजीव मुरारी /रामानुज