उदयपुर के नववर्ष की गूंज सम्पूर्ण भारतवर्ष तक पहुंचाएं - आनन्द प्रताप सिंह
उदयपुर, 02 मार्च (हि. स.)। जिस प्रकार चैत्र प्रतिपदा के साथ नवकोंपलों से प्रकृति स्वयं का श्रृंगार क
उदयपुर के नववर्ष की गूंज सम्पूर्ण भारतवर्ष तक पहुंचाएं - आनन्द प्रताप सिंह


उदयपुर के नववर्ष की गूंज सम्पूर्ण भारतवर्ष तक पहुंचाएं - आनन्द प्रताप सिंह


उदयपुर, 02 मार्च (हि. स.)। जिस प्रकार चैत्र प्रतिपदा के साथ नवकोंपलों से प्रकृति स्वयं का श्रृंगार करती है उसी तरह चैत्र प्रतिपदा का अवसर हमारे जीवन को भी नई ऊर्जा से संजोने का अवसर है। यह समाज में समरसता की भावना और संगठित होकर सर्व समाज के विकास के संकल्प को दोहराने का अवसर है।

यह बात राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग प्रचारक आनन्द प्रताप सिंह ने शनिवार को यहां हिरण मगरी सेक्टर 4 स्थित विद्या निकेतन के भागीरथ सभागार में चैत्र प्रतिपदा पर 9 अप्रैल को होने जा रहे विशाल आयोजन की वृहद तैयारी बैठक में कही। भारतीय नववर्ष समाजोत्सव समिति के तत्वावधान में होने वाली विशाल शोभायात्रा व सनातन धर्मसभा की तैयारियों के तहत उपस्थित सर्व समाज के प्रतिनिधियों, विभिन्न सामाजिक-धार्मिक समितियों, व्यापार मंडल के पदाधिकारियों आदि को सम्बोधित करते हुए उन्होंने उदयपुर के नववर्ष आयोजन की गूंज को सम्पूर्ण भारतवर्ष तक पहुंचाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि नववर्ष पर हर घर पर हरि ॐ और जय श्री राम अंकित किया जाना चाहिए। सिंह ने कहा कि अंग्रेजी का नया साल मनाने और अंग्रेजी बोल लेने से कोई विद्वान नहीं हो जाता, जरूरी यह है कि हमारी भाषा, हमारे व्यवहार, हमारी कृति में सनातन संस्कृति का समावेश हो।

बैठक में समिति संरक्षक विष्णु शंकर नागदा ने कार्यक्रम की विभिन्न व्यवस्थाओं के निमित्त शहर को विभिन्न भागों में बांटते हुए अलग-अलग क्षेत्रों के संयोजक, सहसंयोजक और कार्यकारिणी की घोषणा की।

समिति के संयोजक रविकांत त्रिपाठी ने बताया कि 9 अप्रैल को शोभायात्रा नगर निगम प्रांगण से प्रारम्भ होकर गांधी ग्राउंड जाएगी। इसके साथ ही जगदीश मंदिर, राजकीय फतह स्कूल, भूपालपुरा ग्राउंड इन तीनों स्थानों से कलश यात्राएं निकलेंगी। गांधी ग्राउंड में विशाल सनातन धर्म सभा होगी। धर्मसभा में महामंडलेश्वर उत्तम स्वामी महाराज एवं प्रख्यात शिव कथा वाचक पण्डित प्रदीप मिश्रा (सीहोर) का आशीर्वचन प्राप्त होगा।

शोभायात्रा में कई विशेष आकर्षण होंगे जिनमे हाथी, घोड़े, ऊंट, 1001 भगवा ध्वजाएं, केसरिया साफा पहने बुलेट सवार युवक युवतियां, महिला बैंड, विभिन्न संगठनों-समाजों की झांकियां प्रमुख रहेंगी।

बैठक में सभी ने समस्त समाज को कार्यक्रम में जोड़ने का संकल्प लिया। संचालन समिति के संरक्षक कपिल चित्तौड़ा ने किया।

हिंदुस्थान समाचार/सुनीता कौशल/संदीप