प्रधानमंत्री आवास योजना ने गरीबों के सपनों को किया साकार
रायपुर, 2 मार्च (हि.स.)। प्रधानमंत्री आवास योजना ने जशपुर जिले के रंजीत मिंज के सपने साकार किया है।
प्रधानमंत्री आवास योजना ने रंजीत मिंज ,मुनेश्वर राम और आनंद भगत के सपनों को किया साकार


प्रधानमंत्रीआवास योजना ने रंजीत मिंज ,मुनेश्वर राम और आनंद भगत के सपनों को किया साकार 


रायपुर, 2 मार्च (हि.स.)। प्रधानमंत्री आवास योजना ने जशपुर जिले के रंजीत मिंज के सपने साकार किया है। जशपुर जिले के कुनकुरी विकासखंड के ग्राम पंचायत खारीझरिया निवासी रंजीत मिंज को प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत पक्का आवास मिला।

मुख्यमंत्री विष्णुदेव के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार ने इस दिशा में बेहतर ढंग से कार्य करते हुए जरूरतमंदों के लिए पीएम आवास योजना के तहत पहली प्राथमिकता के साथ आवास निर्माण की स्वीकृति दी। इसके परिणाम स्वरूप पूरे प्रदेश में तेजी से पीएम आवास शहरी एवं ग्रामीण का निर्माण कार्य जारी है।

जशपुर जिले में भी पीएम आवास योजना शहरी एवं ग्रामीण के तहत हजारों लाभार्थियों को बकाया किस्त जारी होने के बाद अब अधिकांश लोगों का मकान पूर्ण हो गया है। रंजीत ने बताया कि वह रोजी-मजदूरी कर अपना जीवन-यापन करता है। कभी सोचा ही नहीं था कि उसका भी कभी पक्का आवास होगा। उन्होंने पक्का आवास के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया है। ग्राम पंचायत खारीझरिया के रंजीत मिंज को वर्ष 2018-19 में आवास स्वीकृत किया गया।

पीएम आवास योजना शहरी के पात्र हितग्राही खजांचीटोली बस्ती, जशपुर निवासी मुनेश्वर राम ने बताया कि दो वर्ष पूर्व आवास निर्माण की स्वीकृति के साथ सिर्फ दो किस्त आए थे। जिस वजह से आवास निर्माण कार्य अपूर्ण था। जब प्रदेश में नई सरकार आई और आवास निर्माण की स्वीकृति के साथ बकाया किस्त जारी किए, उसके बाद आवास निर्माण का कार्य पूर्ण हो चुका है। उन्होंने कहा कि सरकार जरूरतमंदों की आवश्यकता को दृष्टिगत रखते हुए उनके सपनों को साकार करने के लिए बेहतर कार्य कर रही है। स्वयं का पक्का आवास बनने के बाद अब पूरा परिवार खुशी से रह रहे हैं।

योजना के पात्र हितग्राही जशपुर निवासी आनंद भगत का कहना है कि पहले जब उनका कच्चा मकान था, बरसात के दिनों में और ज्यादा परेशानी होती थी। कच्चा मकान होने से घर के अंदर पानी टपकता था और कई तरह की परेशानियां थी । पक्का मकान बनाने के लिए सरकार ने मेरे बैंक में जैसे ही पैसे डाले, तो मेरी खुशी का ठिकाना नहीं था। मैंने तुरंत अपने मकान का काम शुरू किया और जैसे-जैसे मकान बनाने के लिए किस्तें मेरे बैंक खाता में आनी लगी और मेरा अपना पक्का मकान बन गया।

ज्ञात हो कि हितग्राहियों को आवास निर्माण की जियो टैगिंग के अनुरूप लगातार राशि प्रदान की जा रही है। योजना से हर गरीब की पक्के मकान की आस पूरी हो रही है। इस योजना के तहत ऐसे लोगों को पक्के मकान की सौगात मिल रही है, जिनके लिए पक्का घर बना पाना काफी मुश्किल था।

जशपुर जिला प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में लाभार्थियों के लिए 18 लाख घरों को मंजूरी दी गई है। साथ ही आवश्यक धनराशि प्रदान करने का निर्णय लिया था । प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक 61 हजार 784 प्रधानमंत्री आवास को स्वीकृति मिली है जिसमें 52 हजार 282 मकान पूर्ण कर हितग्राहियों को सौंप दिया गया है

हिन्दुस्थान समाचार /केशव शर्मा

हिन्दुस्थान समाचार/संजीव