सरकार की सख्ती का असर, गूगल प्ले स्टोर में लौटे शादी डॉट कॉम समेत सभी ऐप
नई दिल्ली, 02 मार्च (हि.स.)। गूगल ने अपने प्ले स्टोर से कुछ भारतीय ऐप्स को हटाने का फैसला वापस ले लि
गूगल प्‍ले स्‍टोर के लोगो का फाइल फोटो 


नई दिल्ली, 02 मार्च (हि.स.)। गूगल ने अपने प्ले स्टोर से कुछ भारतीय ऐप्स को हटाने का फैसला वापस ले लिया है। गूगल के इस फैसले का पहले स्टार्टअप के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) और फाउंडर ने विरोध किया और केंद्र सरकार ने भी सख्त ऐतराज जताया था। इसके बाद गूगल ने शादी डॉट कॉम समेत कई ऐप को हटाने का फैसला वापस ले लिया है।

आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को बताया कि केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव के हस्तक्षेप के बाद गूगल ने हटाए भारतीय ऐप्स को बहाल कर दिया है। आईटी मंत्री ने इसको लेकर सोमवार को गूगल के साथ बैठक बुलाई है। इससे पहले केंद्र सरकार ने ऐप बिलिंग पॉलिसी का पालन न करने को लेकर गूगल की कार्रवाई पर सख्त रुख अपनाया था। वैष्णव ने कहा कि भारतीय ऐप्स को हटाने की अनुमति नहीं दी जा सकती है।

उधर, इन्फो एज के सह-संस्थापक संजीव बिखचंदानी ने माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ‘एक्स’ पोस्ट पर पोस्ट कर बताया कि गूगल प्ले स्टोर में फिर से नौकरी डॉट कॉम, 99 एकड़ डॉट कॉम नौकरी और शादी डॉट कॉम सहित सभी ऐप्स को बहाल कर दिया गया है। दरअसल बिलिंग नीतियों का अनुपालन न करने पर गूगल ने अपने प्ले स्टोर से कई प्रमुख ऐप्स को हटा दिया था।

उल्लेखनीय है कि एक दिन पहले गूगल ने उसकी ऐप बिलिंग पॉलिसी को नहीं मानने वाले 10 से ज्यादा भारतीय कंपनियों के ऐप को गूगल प्ले स्टोर से हटा दिया था। गूगल ने कहा था कि जिन ऐप्स को हटाया गया है, उन्हें तीन साल का वक्त दिया गया था लेकिन उन्होंने पॉलिसी को मानने से इनकार कर दिया है। गूगल ने जिन 10 भारतीय कंपनियों के ऐप्स को हटाया था, उनमें नौकरी डॉट कॉम, 99 एकड़ डॉट कॉम और शिक्षा डॉट कॉम, शादी डॉट कॉम, मैट्रिमोनी डॉट कॉम, भारत मैट्रिमोनी, बालाजी टेलीफिल्म्स का ऑल्ट (पूर्व में ऑल्ट बालाजी), ऑडियो मंच कुकू एफएम, डेटिंग सेवा क्वैक क्वैक और ट्रूली मैडली के ऐप शामिल थे।

हिन्दुस्थान समाचार/प्रजेश शंकर/पवन