विपक्ष कर रहा नाकाम कोशिश, उप्र से नहीं मिलेगी एक भी सीट : स्वाती सिंह
लखनऊ, 17 मार्च (हि.स.)। सिर्फ घर में रहकर सोशल मीडिया से प्रचार करने वाला जनता का दर्द कैसे समझ सकता
स्वाती सिंह।


लखनऊ, 17 मार्च (हि.स.)। सिर्फ घर में रहकर सोशल मीडिया से प्रचार करने वाला जनता का दर्द कैसे समझ सकता है। उसको जनता की सेवा से मतलब नहीं, सिर्फ उसको लोकसभा और विधानसभा में अपनी पार्टी की सीटें जीतनी चाहिए और जीत के बाद अपने देश और प्रदेश का नहीं, अपने घर की भलाई में बजट को समर्पित कर देना है। ऐसे दल के नेता आज भारत के विकास के लिए दिन-रात एक कर देने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं। यह सब जनता समझ रही है। ये बातें पूर्व मंत्री स्वाती सिंह ने कही।

वह सपा प्रमुख अखिलेश यादव द्वारा सोशल मीडिया पर लिखे गये, “भाजपा की योजनाएं शब्दों के आडम्बर से अधिक कुछ नहीं हैं।” के जवाब में ये बातें कहीं। उन्होंने कहा कि विपक्ष को इस बार पहले से जानता है कि उसे सत्ता में नहीं आना है। वह तो विपक्ष में बैठने लायक अपनी सीटों की तलाश कर रहा है। उप्र में 80 सीटों पर भाजपा का परचम लहराएगा। ये मैं नहीं, आम जनता कह रही है। इसको देखकर विपक्ष की बौखलाहट बढ़ गयी है। वे किसी तरह से खड्यंत्र कर लोगों को आपस में भिड़ाकर एक-दो सीटों पर जीत हासिल करने की नाकाम कोशिश कर रहे हैं।

स्वाती सिंह ने कहा कि देश की जनता सब कुछ जानती है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यकाल में भारत विश्व गुरु बनने की ओर अग्रसर है। पूरा विश्व भारत की बातों पर आज विश्वास कर रहा है। विश्व की तीसरी अर्थव्यवस्था की ओर भारत अग्रसर है। यहां हर गरीब तक योजनाएं पहुंच रही हैं। ऐसे में विपक्ष देखकर ताज्जुब में पड़ा है कि योजनाओं का लाभ हर गरीब तक कैसे पहुंच रहा है, जबकि उनके कार्यकाल में यह सब फाइलों में ही दबकर रह जाता था।

बिना नाम लिये उन्होंने कहा कि पहले यहां एक पार्टी जब सत्ता में होती थी तो पुलिस अधिकारियों की हत्या हो जाती थी और सत्तासीन लोग मुकदर्शक बने रहते थे। आज माफिया जेल में हैं। जनता अमन-चैन से है। कोई भी नियोजित अपराध नहीं हो रहे हैं। ऐसी स्थिति में विपक्ष की बोलती बंद हो गयी है।

हिन्दुस्थान समाचार/उपेन्द्र/बृजनंदन