आस्था ट्रेन पर 10 फरवरी को 1344 रामभक्त सवार होकर दर्शन करने जाएंगे अयोध्या
- झांसी के बलिदानी कारसेवक के माता-पिता दिखाएंगे ट्रेन को हरी झंडी झांसी,05 फरवरी (हि.स.)। बीते माह
पत्रकारों को जानकारी देते भाजपा महानगर अध्यक्ष व झांसी प्रभारी


पत्रकारों को जानकारी देते भाजपा महानगर अध्यक्ष व झांसी प्रभारी


पत्रकारों को जानकारी देते भाजपा महानगर अध्यक्ष व झांसी प्रभारी


पत्रकारों को जानकारी देते भाजपा महानगर अध्यक्ष व झांसी प्रभारी


- झांसी के बलिदानी कारसेवक के माता-पिता दिखाएंगे ट्रेन को हरी झंडी

झांसी,05 फरवरी (हि.स.)। बीते माह 22 जनवरी को अयोध्या में मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का भव्य और दिव्य मंदिर स्थापित होने के बाद अब भाजपा राम भक्तों को भगवान श्रीराम के अयोध्या दर्शन करा रही है। भाजपा अपने ही खर्च पर भक्तों के आने जाने के साथ उनके खाने पीने की भी व्यवस्था कर रही है। झांसी के 1344 रामभक्तों को लेकर 10 फरवरी को आस्था ट्रेन अयोध्या के लिए रवाना होगी। उसे झांसी में कारसेवा के दौरान बलिदान व घायल हुए कारसेवकों के माता-पिता हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। सोमवार को झांसी के भाजपा कार्यालय पर पत्रकार वार्ता आयोजित कर अयोध्या दर्शन के लिए राम भक्तों को जानकारी दी गई।

अयोध्या में प्रभु श्रीराम के दर्शन के लिए भाजपा द्वारा चलाए जा रहे अभियान के तहत देश भर से श्रद्धालु ट्रेन एवम बस से अयोध्या भेजे जा रहे हैं। इसी क्रम में रेलवे बोर्ड ने भी देश के कोने-कोने से श्रद्धालुओं को भगवान राम के दर्शन करने के लिए आस्था ट्रेन का संचालन कर दिया है। सोमवार को भाजपा कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में भाजपा के महानगर अध्यक्ष हेमंत परिहार व झांसी प्रभारी संत विलास शिवहरे ने जानकारी देते हुए बताया कि अयोध्या राम मंदिर दर्शन के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत रेलवे ने आस्था स्पेशल ट्रेन चलाई है। झांसी से दस फरवरी को पहली ट्रेन अयोध्या ले जाई जा रही है। उन्होंने बताया कि अभी एक हजार से अधिक सीट बुक हो चुकी।

उन्होंने बताया कि 1344 श्रद्धालुओं का रजिस्ट्रेशन हो चुका है। इस ट्रेन को झांसी में कारसेवा के दौरान गोली कांड में बलिदान व घायल हुए कारसेवकों के माता-पिता और घायल कार सेवकों द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया जायेगा। श्रद्धालुओं को कोई समस्या न हो इसके लिए सभी कोच में एक भाजपा कार्यकर्ता को कोच प्रमुख बनाया गया है। अयोध्या जा रहे रामभक्तों को भोजन, चिकित्सा आदि सभी व्यवस्था के लिए अलग अलग प्रमुख बनाए गए है। रामभक्त भजन कीर्तन करते हुए निकलेंगे। वहां रुकने से लेकर सरयू स्नान करने, दर्शन करने और भोजन आदि की पूरी व्यवस्था की गई है। 13 फरवरी को सभी की वापसी होगी।

इस दौरान पूर्व जिलाध्यक्ष प्रदीप सरावगी, संदीप तिवारी, दिगंत चतुर्वेदी, निशांत शुक्ला, प्रयाशु डे, सौरभ मिश्रा, अंकुर दीक्षित, शहर मण्डल अध्यक्ष अभिषेक जैन आदि उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/महेश/मोहित