घरेलू शेयर बाजार हुआ चौतरफा बिकवाली का शिकार, सेंसेक्स और निफ्टी में भारी गिरावट
- निवेशकों को 7.5 लाख करोड़ से अधिक का नुकसान नई दिल्ली, 12 फरवरी (हि.स.)। कारोबारी सप्ताह के पहले द
शेयर बाजार में भारी गिरावट


- निवेशकों को 7.5 लाख करोड़ से अधिक का नुकसान

नई दिल्ली, 12 फरवरी (हि.स.)। कारोबारी सप्ताह के पहले दिन ही घरेलू शेयर बाजार चौतरफा बिकवाली का शिकार हो गया। आज के कारोबार की शुरुआत मजबूती के साथ हुई थी। शुरुआती 10 मिनट के कारोबार के बाद ही बाजार पर बिकवालों ने अपना दबाव बना दिया, जिसकी वजह से सेंसेक्स और निफ्टी दोनों सूचकांक लगातार गिरते चले गए। पूरे दिन के कारोबार के बाद सेंसेक्स 0.73 प्रतिशत और निफ्टी 0.76 प्रतिशत की कमजोरी के साथ बंद हुए।

आज दिन भर के कारोबार के दौरान बाजार पर बिकवाल पूरी तरह से हावी बने रहे। इस कारण पब्लिक सेक्टर एंटरप्राइज और पीएसयू बैंक से जुड़े शेयरों को जोरदार गिरावट का सामना करना पड़ा। इसी तरह एनर्जी, रियल्टी, एफएमसीजी और मेटल सेक्टर के शेयरों पर भी लगातार दबाव बना रहा। फार्मास्यूटिकल और आईटी सेक्टर के शेयरों में खरीदारी होती नजर आई। ब्रॉडर मार्केट में भी आज लगातार दबाव बना रहा, जिसके कारण बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 2.62 प्रतिशत की कमजोरी के साथ बंद हुआ। इसी तरह स्मॉलकैप इंडेक्स ने 3.16 प्रतिशत टूट कर आज के कारोबार का अंत किया।

आज बाजार की कमजोरी के कारण स्टॉक मार्केट के निवेशकों की संपत्ति में साढ़े सात लाख करोड़ रुपये से अधिक की कमी हो गई। बीएसई में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैपिटलाइजेशन आज के कारोबार के बाद घट कर 378.85 लाख करोड़ रुपये (अस्थाई) हो गया। पिछले सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन यानी शुक्रवार को इनका मार्केट कैपिटलाइजेशन 386.36 लाख करोड़ रुपये था। इस तरह निवेशकों को आज के कारोबार से करीब 7.51 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हो गया।

आज दिन भर के कारोबार में बीएसई में 4,079 शेयरों में एक्टिव ट्रेडिंग हुई। इनमें 1,004 शेयर बढ़त के साथ बंद हुए, जबकि 2,986 शेयरों में गिरावट का रुख रहा, वहीं 89 शेयर बिना किसी उतार चढ़ाव के बंद हुए। एनएसई में आज 2,199 शेयरों में एक्टिव ट्रेडिंग हुई। इनमें से 343 शेयर मुनाफा कमा कर हरे निशान में और 1,856 शेयर नुकसान उठा कर लाल निशान में बंद हुए। इसी तरह सेंसेक्स में शामिल 30 शेयरों में से 8 शेयर बढ़त के साथ और 22 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। निफ्टी में शामिल शेयरों में से 15 शेयर हरे निशान में और 35 शेयर लाल निशान में बंद हुए।

बीएसई का सेंसेक्स आज 126.82 अंक की बढ़त के साथ 71,722.31 अंक के स्तर पर खुला। कारोबार की शुरुआत होते ही खरीदारी के सपोर्ट से अगले 10 मिनट में ही ये सूचकांक 161.09 अंक की तेजी के साथ 71,756.58 अंक के स्तर तक पहुंच गया। इसके बाद बाजार में बिकवाली का दबाव बन गया, जिसकी वजह से थोड़ी देर में ही ये सूचकांक गिर कर लाल निशान में कारोबार करने लगा। हालांकि, खरीदारों ने लिवाली का जोर बनाने की कोशिश भी की। इसके बावजूद बिकवाली के दबाव की वजह से सेंसेक्स लगातार लाल निशान में ही बना रहा। लगातार हो रही बिकवाली के कारण ये सूचकांक 672.92 अंक टूट कर 70,922.57 अंक तक लुढ़का। हालांकि, आखिरी वक्त में हुई थोड़ी बहुत खरीदारी के कारण सेंसेक्स निचले स्तर से मामूली रिकवरी करके 523 अंक की कमजोरी के साथ 71,072.49 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की तरह ही एनएसई के निफ्टी ने आज 18.30 अंक की मजबूती के साथ 21,800.80 अंक के स्तर से कारोबार की शुरुआत की। बाजार खुलने के बाद खरीदारी के सपोर्ट से ये सूचकांक 49.20 अंक उछल कर 21,831.70 अंक तक पहुंच गया। लेकिन इसके बाद बिकवाली का दबाव बनने के कारण इस सूचकांक ने अपनी पूरी बढ़त गंवा दी और लाल निशान में पहुंच कर कारोबार करने लगा। लगातार हो रही बिकवाली के कारण ये सूचकांक 207.75 अंक गिर कर 21,574.75 अंक तक पहुंच गया। पूरे दिन के कारोबार के बाद निफ्टी निचले स्तर से मामूली रिकवरी करके 166.45 अंक की गिरावट के साथ 21,616.05 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

दिन भर हुई खरीद बिक्री के बाद स्टॉक मार्केट के दिग्गज शेयरों में से डॉ रेड्डीज लेबोरेट्रीज 2.89 प्रतिशत, अपोलो हॉस्पिटल 2.75 प्रतिशत, डिवीज लेबोरेट्रीज 2.41 प्रतिशत, विप्रो 2.24 प्रतिशत और एचसीएल टेक्नोलॉजी 2.23 प्रतिशत की मजबूती के साथ आज के टॉप 5 गेनर्स की सूची में शामिल हुए। कोल इंडिया 5.13 प्रतिशत, हीरो मोटोकॉर्प 4.51 प्रतिशत, बीपीसीएल 3.88 प्रतिशत, ओएनजीसी 3.61 प्रतिशत और टाटा स्टील 2.76 प्रतिशत की कमजोरी के साथ आज के टॉप 5 लूजर्स की सूची में शामिल हुए।

हिन्दुस्थान समाचार/योगिता/सुनीत