एसजीबी की नई सीरीज आज से खुली, मार्केट रेट से सस्ता सोना खरीदने का मौका
- 6,213 रुपये प्रति ग्राम के भाव पर खरीद सकते हैं सोना नई दिल्ली, 12 फरवरी (हि.स.)। सॉवरेन गोल्ड बॉन
सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की नई स्कीम आज से


- 6,213 रुपये प्रति ग्राम के भाव पर खरीद सकते हैं सोना

नई दिल्ली, 12 फरवरी (हि.स.)। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (एसजीबी) स्कीम 2023-24 सीरीज 4 को आज से निवेश के लिए खोल दिया गया है। केंद्र सरकार ने एसजीबी स्कीम के तहत इस सीरीज के लिए सोने की कीमत 6,263 रुपये प्रति ग्राम तय की है। निवेशक अगले शुक्रवार यानी 16 फरवरी तक इस स्कीम के तहत निवेश कर सकेंगे। हालांकि ऑनलाइन पेमेंट करने पर निवेशक और भी कम कीमत पर सोने में निवेश कर सकते हैं।

इस संबंध में उपलब्ध कराई गई जानकारी के मुताबिक पहले की तरह ही इस बार भी ऑनलाइन पेमेंट करने पर निवेशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट मिलेगी। इस तरह ऑनलाइन पेमेंट करने पर निवेशक 6,213 रुपये प्रति ग्राम के भाव पर इस स्कीम में निवेश कर सकेंगे। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम के तहत किए जाने वाले निवेश पर जीएसटी नहीं लगता है, जिसके कारण निवेशकों को मार्केट रेट से कम कीमत पर सोने में निवेश करने का मौका मिलता है।

उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने 2015 के नवंबर में सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम की शुरुआत की थी। दो महीने पहले ही सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की पहली सीरीज की मैच्योरिटी हुई थी, जिसमें निवेशकों को करीब ढाई गुना का मुनाफा हुआ था। इस स्कीम के तहत भारतीय रिजर्व बैंक केंद्र सरकार की ओर से सोने में निवेश के लिए ऑनलाइन बॉन्ड जारी करता है। इस तरह इस स्कीम में निवेश किए गए पैसे की सुरक्षा की गारंटी खुद भारत सरकार देती है। स्कीम के तहत किए गए निवेश पर सालाना 2.5 प्रतिशत का ब्याज दिया जाता है। ब्याज का ये पैसा हर 6 महीने में निवेशकों के बैंक अकाउंट में जमा होता है।

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम के तहत किए गए निवेश की अवधि 8 साल की होती है। 8 साल पूरा होने के बाद मार्केट रेट के मुताबिक निवेशकों को उनका पैसा वापस किया जाता है। हालांकि निवेश करने के बाद 5 साल की अवधि पूरा होने के बाद भी निवेशक अपना पैसा निकाल सकते हैं। इसके अलावा स्टॉक एक्सचेंज में ट्रेडिंग के जरिए भी निवेशक अपना पैसा निकाल सकते हैं।

इस स्कीम के तहत सोने की कीमत सब्सक्रिप्शन शुरू होने की तारीख के पहले के तीन कारोबारी दिनों के दौरान सोने के भाव के औसत के आधार पर तय की जाती है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड को सभी शेड्यूल्ड कॉमर्शियल बैंक, स्टॉक होल्डिंग कारपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड, डेजिग्नेटेड पोस्ट ऑफिस और क्लीयरिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के साथ ही बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज से भी लिया जा सकता है। हालांकि शेड्यूल्ड कॉमर्शियल बैंकों में स्मॉल फाइनेंस बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक और पेमेंट बैंक को शामिल नहीं किया गया है।

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम के तहत निवेश के संबंध में भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से जारी गाइडलाइन के मुताबिक कोई भी व्यक्ति व्यक्तिगत तौर पर 1 ग्राम से लेकर 4 किलोग्राम तक सोने के बॉन्ड में निवेश कर सकता है। वही ट्रस्ट के नाम पर अधिकतम 20 किलोग्राम सोने के बंद में निवेश किया जा सकता है।

हिन्दुस्थान समाचार/ योगिता/संजीव