श्रीराम जन्मभूमि मन्दिर में दस दिन में 25 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने किए दर्शन
अयोध्या, 01 फरवरी (हि.स.)। अयोध्या के नव्य-दिव्य-भव्य श्रीराम जन्मभूमि मंदिर में विराजित श्रीरामलला
श्रीराम जन्मभूमि मन्दिर में  दस दिन में 25 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने किए दर्शन


श्रीराम जन्मभूमि मन्दिर में  दस दिन में 25 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने किए दर्शन


श्रीराम जन्मभूमि मन्दिर में  दस दिन में 25 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने किए दर्शन


अयोध्या, 01 फरवरी (हि.स.)। अयोध्या के नव्य-दिव्य-भव्य श्रीराम जन्मभूमि मंदिर में विराजित श्रीरामलला के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की राम नगरी में रेला चल रहा है। दो लाख से अधिक लोग प्रतिदिन दर्शन कर रहे हैं। पिछले 10 दिन के अंदर अयोध्या में 25 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने प्रभु रामलला के दर्शन किए हैं।

गुरुवार को लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले 10 दिन के अंदर अयोध्या में 25 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने प्रभु रामलला के दर्शन किए हैं। एक अद्भुत स्थिति है जो लोगों के लिए कौतूहल और आश्चर्य का विषय बनी हुई है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि अयोध्या देश की आस्था का प्रतीक है। जनभावनाएं अयोध्या के साथ जुड़ी हुई हैं। प्रभु श्री राम लला के साथ जुड़ी हैं। हर अयोध्यावासी की एक अभिलाषा थी कि अयोध्या का भी विकास होना चाहिए। आज वह सपना साकार हो रहा है। वास्तव में अयोध्या इसकी हकदार थी लेकिन किन्हीं कारणों से अयोध्या की उपेक्षा हुई। पांच सदी पूर्व जो एक कलंक अयोध्या पर लगाने का प्रयास हुआ था, उससे मुक्त होकर प्रभु राम के भव्य मंदिर में रामलला फिर से विराजमान हो गए, इस सपने को साकार होते हुए देखकर के आज पूरी दुनिया प्रफुल्लित है।

हिन्दुस्थान समाचार/पवन/आकाश