छह दिन में 19 लाख रामभक्तों ने लिया श्रीरामलला का आशीष
- रामभक्तों को रामलला के सुगम दर्शन के लिए किए गए हैं कई इंतजाम अयोध्या, 28 जनवरी (हि.स.)। श्रीरामल
श्रीरामलला


- रामभक्तों को रामलला के सुगम दर्शन के लिए किए गए हैं कई इंतजाम

अयोध्या, 28 जनवरी (हि.स.)। श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद रामनगरी में दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं का जत्था दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है। इनकी आवक अनवरत देखी जा रही है। प्राण प्रतिष्ठा से महज छह दिनों के भीतर श्रीरामलला के दर्शानार्थियों की संख्या 18.75 लाख से अधिक पहुंच चुकी है। यहां पहुंचने वाले दर्शनार्थी श्रीरामलला के दर्शन कर आशीष ले रहे हैं।

इधर, श्रद्धालुओं के दर्शन की सुगमता का भी पूरा ख्याल रखा जा रहा है। सरकार द्वारा गठित एक उच्चस्तरीय कमेटी की देखरेख में इन्हें दर्शन-पूजन की व्यवस्था की गई है।

प्राण प्रतिष्ठा के बाद पहले दिन यानी 23 जनवरी को मंदिर के पट को भक्तों के लिए खोला गया था। उस दिन लाखों की संख्या में श्रद्धालु उमड़ पड़े। इसके बाद आलम यह है कि प्रतिदिन इनकी संख्या भारी मात्रा में श्रीरामलला के दर्शन को अयोध्या धाम पहुंच रही है। औसत प्रतिदिन दो लाख से कुछ अधिक रामभक्तों के यहां पहुंचने की तस्दीक हो रही है। अब ये श्रीरामलला के दरबार में सुगमता पूर्वक पहुंच रहे हैं और दर्शन-पूजन कर श्रीरामलला का आशीष ले रहे हैं।

लगातार गूंज रहा जायघोष

अयोध्या नगर से लेकर मंदिर परिसर में दिनभर दिन भर लगातार 'जय श्रीराम' का जयघोष गूंज रहा है। देश-विदेश, विभिन्न राज्यों और उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों से प्रतिदिन बड़ी संख्या में श्रद्धालु श्रीरामलला के दर्शन को पहुंच रहे हैं। रविवार को भी लगभग 3.25 लाख की संख्या में श्रद्धालुओं ने श्रीरामलला के दर्शन किए।

प्राण प्रतिष्ठा के बाद से अयोध्या आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या

- 23 जनवरी - 05 लाख

- 24 जनवरी - 02.5 लाख

- 25 जनवरी - 02 लाख

- 26 जनवरी - 03.5 लाख

- 27 जनवरी - 02.5 लाख

- 28 जनवरी - 03.25 लाख

(आंकड़े सरकारी प्रवक्ता द्वारा उपलब्ध कराये गये हैं)

हिन्दुस्थान समाचार/डॉ. आमोदकांत /राजेश