कावेरी पर कोहराम, तमिलनाडु को पानी देने के खिलाफ बेंगलुरु बंद, किसानों ने किया प्रदर्शन
बेंगलुरु, 26 सितंबर (हि.स.)। कर्नाटक और तमिलनाडु के बीच कावेरी नदी जल विवाद पर आज बेंगलुरु में बंद क
कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में आज सुबह अधिकतर सड़कें खाली हैं। फोटो-इंटरनेट मीडिया


बेंगलुरु, 26 सितंबर (हि.स.)। कर्नाटक और तमिलनाडु के बीच कावेरी नदी जल विवाद पर आज बेंगलुरु में बंद के दौरान कोहराम मचा हुआ है। तमिलनाडु को कावेरी नदी का पानी छोड़े जाने के खिलाफ राज्य में लगातार हो रहे प्रदर्शन के बीच विभिन्न संगठनों के मंगलवार को बेंगलुरु बंद के आह्वान का जनजीवन पर खासा असर दिख रहा है।

हालांकि बेंगलुरु मेट्रोपॉलिटन ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन ने कहा है कि उसके रूट हमेशा की तरह शुरू रहेंगे। बावजूद इसके अधिकांश बसें सड़कों से गायब हैं। सरकार ने बंद के मद्देनजर स्कूल और कालेजों में आज छुट्टी कर दी है। इन संगठनों ने शुक्रवार को राज्यव्यापी बंद आहूत किया। इस बीच, गूगल ने अपने सभी कर्मचारियों को आज घर से काम करने का आदेश दिया है। विस्तारा और इंडिगो एयरलाइंस ने अपने यात्रियों के लिए सलाह जारी की है।

आज के बंद पर मैजेस्टिक बीएमटीसी बस स्टॉप पर ऑटो चालक नसीर खान ने कहा, वह बंद का समर्थन करते हैं। कावेरी के जल पर सिर्फ कर्नाटक का अधिकार है। आज ऑटो नहीं चलेंगे। इस बीच कर्नाटक रक्षणा वेदिके के सदस्यों ने रामानगर में कावेरी जल मुद्दे पर विरोध स्वरूप पूजा की है। किसान संगठन के सदस्यों ने फ्रीडम पार्क में प्रदर्शन किया है।

बेंगलुरु के डीसीपी शेखर एच. टेक्कन्नवर ने कहा है कि बंद को देखते हुए पुलिस ने पुख्ता इंतजाम किए हैं। अनुमति वाले स्थान को छोड़कर कहीं भी प्रदर्शन करने पर कार्रवाई की जाएगी। ट्रैफिक अभी सुचारु रूप से चल रहा है। किसान संघ के सदस्यों को मैसूर बैंक सर्कल में प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं है।

हिन्दुस्थान समाचार/मुकुंद