छात्राओं के साथ घिनौनी हरकत करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा
नए साल में होंगे पांच निगमों के चुनाव प्राइवेट नौकरी कानून पर हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत करते हुए 


नए साल में होंगे पांच निगमों के चुनाव

प्राइवेट नौकरी कानून पर हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में देंगे चुनौती

चंडीगढ़, 23 नवंबर (हि.स.)। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जींद में स्कूली छात्राओं के यौन शोषण की घटना पर कहा है कि सरकार ऐसी घटना बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेगी और आरोपितों को बख्शा नहीं जाएगा। पुलिस ने इस मामले में तुरंत कार्रवाई कर आरोपित को गिरफ्तार किया गया है।

संबंधित स्कूल में महिला प्रिंसीपल को नियुक्त कर दिया गया है और 16 नये स्टाफ की नियुक्ति की गई है। हरियाणा राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा रेणु भाटिया को पुलिस के साथ समन्वय स्थापित करके सेमिनार आयोजित करने के लिए कहा है, ताकि इस प्रकार की घटनाओं की पुनरावृति न हो। उन्होंने कहा कि हरियाणा ने तो पहले ही ऐसी घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए कानून बनाया है और फांसी की सजा का प्रावधान किया है।

धान खरीद के संबंध में पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जल संरक्षण सरकार की प्राथमिकता है, इसी उद्देश्य से किसानों को धान के स्थान पर अन्य वैकल्पिक फसलों की खेती करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए मेरा पानी मेरी विरासत योजना चलाई है। किसानों ने भी सरकार का सहयोग करते हुए 1.75 लाख एकड़ क्षेत्र में धान की जगह अन्य फसलों की खेती की है और इस योजना के तहत 7 हजार रुपये प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि दी गई है। उन्होंने कहा कि हरियाणा पहला राज्य है, जहां 14 फसलों की खरीद एमएसपी पर की जा रही है।

निजी क्षेत्र में हरियाणा के युवाओं को 75 प्रतिशत आरक्षण के मामले में पूछे गए प्रश्न का जवाब देते हुए श्री मनोहर लाल ने कहा कि इस मामले को लेकर हरियाणा सरकार सुप्रीम कोर्ट में अपील करेगी। एक कल्याणकारी राज्य होने के नाते न्यायालय में इस मामले को लेकर मजबूत पैरवी करेगी।

शहरी स्थानीय निकायों के चुनाव के संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा कि 5 नगर निगमों का जनवरी माह तक का कार्यकाल है, उसके बाद इन निगमों के चुनाव होने हैं। इसके लिए वार्डबंदी का कार्य पूरा हो चुका है। इस मौके पर मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव राजेश खुल्लर, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव वी उमाशंकर, शहरी स्थानीय निकाय विभाग के आयुक्त एवं सचिव विकास गुप्ता, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव तथा सूचना, लोक संपर्क, भाषा एवं संस्कृति विभाग के महानिदेशक डॉ अमित अग्रवाल, मुख्यमंत्री के उप प्रधान सचिव के मकरंद पाण्डुरंग सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

हिन्दुस्थान समाचार/संजीव/सुनील