संघ के विजयादशमी उत्सव की तैयारी पूरी
- पद्मश्री शंकर महादेवन पहुंचे नागपुर नागपुर, 23 अक्टूबर (हि.स.)। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस)
संग्रहित फोटो 


- पद्मश्री शंकर महादेवन पहुंचे नागपुर

नागपुर, 23 अक्टूबर (हि.स.)। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) नागपुर महानगर का मंगलवार को स्थानीय रेशमबाग मैदान में विजया दशमी उत्सव आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में प्रसिद्ध गायक शंकर महादेवन बतौर मुख्यातिथि सम्मिलित होंगे। वहीं सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत उपस्थित स्वयंसेवकों को पाथेय देंगे।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचार विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार रेशमबाग संघ कार्यालय से सुबह 6 बजकर 20 मिनट पर 2 पथ संचलन मार्ग क्रमण करेंगे। इसमें पहला पथ संचलन व्यवसायी स्वयंसेवकों का होगा जबकि पथ संचलन विद्यार्थियों का रहेगा। पहला पथ संचलन रेशमबाग कार्यालय के सीपी अंड बेरार गेट से बाहर, दाहिनी ओर लोकांची शाळा चौराहा, अशोक चौक, प्रिया बार चौक से होते हुए सीपी एंड बेरार गेट से अंदर रेशमबाग लौटेगा जबकि विद्यार्थियो का पथ संचलन भी ठीक 6.20 बजे मार्ग क्रमण करेगा। यह पथ संचलन रेशमबाग मैदान अतिथि गेट से निकलकर केशव द्वार, प्रिया बार चौक, अशोक चौक से सीधे लोकांची शाळा चौराहा होते हुए रेशमबाग मैदान के पीछे के गेट से अंदर की ओर आएगा। इन दोनों पथसंचलनों का सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत स्थानीय अशोक चौक पर अवलोकन करेंगे।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा नागपुर में आयोजित विजयादशमी उत्सव में प्रसिद्ध गायक पद्मश्री शंकर महादेवन को इस वर्ष मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया है। महादेवन 24 अक्टूबर को नागपुर में संघ के स्थापना दिवस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करेंगे। शंकर महादेवन का सोमवार दोपहर को नागपुर एयरपोर्ट पर आगमन हुआ है।

संघ के संस्थापक डॉ. केशव बलिराम हेडगेवार ने 27 सितंबर 1925 को विजयादशमी के दिन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना कि थी। इसलिए विजयादशमी के दिन संघ का स्थापना दिवस भी होता है। इस दिन सरसंघचालक स्वयंसेवकों को पाथेय देते हैं। शुक्रवार 20 अक्टूबर को राष्ट्र सेविका समिति के विजया दशमी उत्सव में प्रधान संचालिका शांताक्का ने डीएमके की ओर से सनातन धर्म के खिलाफ आलोचना, इस्त्रायल-हमास युद्ध, राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा और समलैंगिक विवाह पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला इन प्रमुख बिंदुओं पर अपने उद्बोधन में विचार रखे थे। अब सरसंघचालक मंगलवार को क्या कहेंगे इसे लेकर देश में सभी को उत्सुकता है।

हिन्दुस्थान समाचार / मनीष/प्रभात