कानपुर समेत उप्र के कई जिलों में हुई बारिश, ओलावृष्टि का अलर्ट
कानपुर, 25 जनवरी (हि.स.)। मौसम विभाग ने उप्र के सभी जिलों में तीस जनवरी तक गरज्—चमक के साथ बारिश और
कानपुर समेत उप्र के कई जिलों में हुई बारिश, ओलावृष्टि का अलर्ट


कानपुर, 25 जनवरी (हि.स.)। मौसम विभाग ने उप्र के सभी जिलों में तीस जनवरी तक गरज्—चमक के साथ बारिश और ओलावृष्टि का अलर्ट जारी किया है। कानपुर, लखनऊ एवं बरेली समेत कई जिलों में मंगलवार रात में रुक-रुक कर बरसात हुई। बुधवार को बरेली का न्यूनतम तापमान 10 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 24 डिग्री पहुंचने का पूर्वानुमान जताया है। बीते 36 घंटे के दौरान 38 मिमी बारिश हुई।

सीएसए के मौसम विज्ञानी डॉ. एस.एन. सुनील पांडेय ने बताया कि उत्तर-पूर्वी और दक्षिण-पूर्वी हवाओं के अलावा अन्य दिशाओं से भी हवाएं उत्तर प्रदेश की तरफ आ रही हैं। जिससे पूर्वानुमान में बदलाव हो रहा है। मौसम के चार सिस्टम काम कर रहे हैं। इसका भी असर पड़ रहा है।

बीते 36 घंटे में 38 मिमी बारिश रिकार्ड दर्ज की गई। बुधवार को दिन में 9 मिमी बारिश होने की संभावना है। 11 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी। मंगलवार को कानपुर सीजन का सबसे गर्म दिन रिकार्ड किया गया। यहां न्यूनतम तापमान 10.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। जबकि अधिकतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रहा। यह सामान्य तापमान से 3.6 डिग्री अधिक था।

कानपुर रहा सबसे गर्म

बदलते मौसम के बीच बादल धोखा दे गए और मंगलवार को कानपुर में सीजन का सबसे गर्म दिन दर्ज हो गया। आईएमडी के पूर्वानुमान और येलो अलर्ट के बावजूद एक बूंद बारिश नहीं हुई। इस दौरान अधिकतम तापमान भी चार डिग्री बढ़कर 25 पर पहुंच गया। रात का पारा महीने में दूसरी बार 10.8 डिग्री पर पहुंच गया।

चार मौसमी सिस्टमों के बनने से पूर्वानुमान सटीक नहीं रहा

मौसम विभाग के मुताबिक एक साथ चार मौसमी सिस्टमों के बनने से पूर्वानुमान सटीक नहीं रहा। एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी पाकिस्तान और उससे सटे जम्मू कश्मीर पर बना हुआ है। प्रेरित चक्रवर्ती हवाओं का क्षेत्र दक्षिण-पश्चिम राजस्थान व आसपास बना हुआ है। एक ताजा विक्षोभ उत्तर-पश्चिम क्षेत्र में बन रहा है। ऐसे अनेक कारणों से कानपुर मंडल में दिन में बारिश नहीं हो सकी।

हिन्दुस्थान समाचार/राम बहादुर