जमीन बेचने के नाम पर अधिवक्ता से धोखाधड़ी, 12 लाख रुपये हड़पने का आरोप
- एसएसपी के आदेश पर भोजपुर थाना पुलिस ने आरोपित के खिलाफ दर्ज की एफआईआर मुरादाबाद, 25 सितम्बर (हि.स.
जमीन बेचने के नाम पर अधिवक्ता से धोखाधड़ी, 12 लाख रुपए हड़पने का आरोप


जमीन बेचने के नाम पर अधिवक्ता से धोखाधड़ी, 12 लाख रुपए हड़पने का आरोप


- एसएसपी के आदेश पर भोजपुर थाना पुलिस ने आरोपित के खिलाफ दर्ज की एफआईआर

मुरादाबाद, 25 सितम्बर (हि.स.)। जमीन बेचने के नाम पर अधिवक्ता और उसके साथी से 12 लाख रुपये लेने का मामला प्रकाश में आया है। आरोपित द्वारा जमीन का बैनामा किया गया लेकिन बैनामे वाली जमीन की बजाय दूसरे की जमीन पर कब्जा दिला दिया। प्रकरण में एसएसपी के आदेश पर भोजपुर थाना पुलिस ने आरोपित के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है।

थाना कटघर के मोहल्ला पचपेड़ा नई बस्ती निवासी एडवोकेट मुसर्रत इकबाल ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल को शिकायती पत्र देकर बताया था कि उन्होंने साथी फैसल जमाल के साथ मिलकर 17 नवंबर 2014 को 400 वर्ग मीटर जमीन मुरादाबाद तहसील के भोजपुर थाना क्षेत्र स्थित रसूलपुर नगलाखेम में खरीदी थी। भूमि का विक्रय मोहम्मद आरिफ अंसारी पुत्र इनाम हुसैन निवासी किसरौल सैनियों वाली गली थाना नागफनी ने किया। बकाया बैनामा भी कराया गया। लेकिन भूमि विक्रेता ने छल कपट व धोखाधड़ी करते हुए मुसर्रत अली और फैसल जमाल को कब्जा दिला दिया। सही कब्जा मान कर दोनों बैनामेदार काबिज हो गये। एक वर्ष पहले एसडीएम मुरादाबाद व हल्का लेखपाल पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। राजस्व टीम ने बताया कि उक्त भूमि पर कब्जा अवैध है। प्रशासन ने उस जमीन को खाली भी करा लिया। तब अधिवक्ता और उनके साथी को ठगी का अहसास हुआ। इसके बाद दोनों ने जमीन बेचने वाले मोहम्मद आरिफ अंसारी से गलत कब्जा दिलाने की शिकायत की और अपने 12 लाख रुपये वापस मांगा। आरोप है कि रकम वापस मांगने पर आरोपी धमकी देने लगा। जिसके बाद पीड़ित पक्ष ने एसएसपी हेमंत कुटियाल से गुहार लगाई। जहां से एफआईआर का आदेश हुआ।

एसओ भोजपुर सुनील कुमार चौधरी ने बताया कि तहरीर के आधार पर आरोपी आरिफ अंसारी के खिलाफ धोखाधड़ी, धमकी देने समेत अन्य गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया गया है। विवेचना में जो भी तथ्य सामने आएगा उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

हिन्दुस्थान समाचार/निमित


 rajesh pande