फर्जी प्रोफाइल बनाकर 35 लोगों से 1 करोड़ 16 लाख की ठगी के आरोप में दो गिरफ्तार
- मेट्रोमोनियल साइट पर बनाते थे फर्जी प्रोफाइल, सिविल लाइंस पुलिस के साथ साइबर सेल ने किया खुलासा -
फर्जी प्रोफाईल बनाकर 35 लोगों से 1 करोड़ 16 लाख की ठगी करने के आरोपी पुलिस गिरफ्त में।


फर्जी प्रोफाईल बनाकर 35 लोगों से 1 करोड़ 16 लाख की ठगी करने के आरोपी पुलिस गिरफ्त में।


- मेट्रोमोनियल साइट पर बनाते थे फर्जी प्रोफाइल, सिविल लाइंस पुलिस के साथ साइबर सेल ने किया खुलासा

- लड़के व लड़की के घरवालों को विश्वास में लेते हुये मांगलिक दोष एवं रिंग सेरेमनी के नाम पर ऐंठते थे रकम

मुरादाबाद, 25 सितम्बर (हि.स.)। मेट्रोमोनियल साइट पर फर्जी प्रोफाल बनाकर लगभग 35 लोगों से करीब 1,16,83,191 रुपये की ठगी करने वाले गिरोह के दो आरोपितों को थाना सिविल लाइन्स पुलिस एवं साइबर सेल की संयुक्त टीम ने रविवार को गिरफ्तार किया।

सीओ सिविल लाइंस डा. अनूप सिंह ने प्रेसवार्ता करते हुए बताया कि बीती 10 जून को थाना सिविल लाइन्स क्षेत्र निवासी वादी द्वारा दी गई तहरीर में बताया था कि ने अभियुक्त द्वारा वादी के साथ धोखाधड़ी कर वादी की पुत्री को शादी का आश्वासन देकर 27,16,778 रुपये की ठगी की है। पीड़ित की तहरीर के आधार पर थाना सिविल लाइन्स पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी थी। पुलिस अधीक्षक नगर एवं क्षेत्राधिकारी सिविल लाइन्स के पर्यवेक्षण में थाना सिविल लाइन्स पुलिस एवं साइबर सेल की संयुक्त टीम गठित की गई। विवेचनात्मक कार्यवाही तथा प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर गठित टीम ने रविवार के मुकदमे नामित आरोपी झारखंड के लातू लातेहार के थाना बालूमाथ ग्राम लातू निवासी बब्लू कुमार शर्मा पुत्र संतोष सिंह एवं बिहार के वैशाली स्थित थाना विद्धुपुर ग्राम रहिमापुर निवासी पूजा कुमारी पुत्री रामबिचारे सिंह को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा किया।

पुलिस द्वारा पूछताछ में आरोपी बब्लू तथा पूजा द्वारा बताया गया कि वे दोनों मेट्रोमोनियल साइट एवं अन्य पर इंटरनेट के माध्यम से किसी अन्य व्यक्ति का डेटा चुराकर अपनी प्रोफाईल बताकर अपना मोबाईल नम्बर जोड़ते हुये लड़के व लड़की के घरवालों से वार्ता कर विश्वास में लेते हुये मांगलिक दोष एवं रिंग सेरेमनी आदि के नाम पर अपने तथा अपनी सहयोगी पूजा के बैंक खातो में रूपयों को स्थानांतरित करवाया जाता था। उन्होंने बताया कि वह मुख्य रूप से चिकित्सा से जुड़े डाक्टर व उनके परिवार एवं अन्य आर्थिक रूप से सम्पन्न लोगों को अपनी ठगी का शिकार बनाते थे।

गिरफ्तार आरोपित बबलू और पूजा लोगों विश्वास में लेने के लिये एक रूपया, एक लाख एक रूपया, पांच लाख एक रूपया, दस लाख एक रूपया आदि शुभ अंक की बात कहकर अपने खातों में धनराशि स्थानांतरित कराते थे। बब्लू कुमार ने कोटा में मेडिकल के कम्पीटिशन की तैयारी की थी। असफल होने पर इसके द्वारा पूजा कुमारी को अपने प्रेम जाल में फंसाया गया। जिसके बाद दोनों लिव इन रिलेश्नशिप में रहने लगे थे। तत्पश्चात घर वालो की सहमति से दोनो ने शादी कर ली थी। दोनों ने मिलकर मेट्रोमोनियल साइट्स के माध्यम से करीब 35 लोगों के साथ धोखाधड़ी व ठगी कर मोटी रकम अपने खातों में ट्रांसफर करा लिये थे। दोनों ने लोगों से ठगी की गई धनराशि 1,16,83,191 रुपये में से अपने शौक पूरे करने में कुछ धनराशि खर्च कर लिया तथा बाकी धनराशि को आनलाइन लूडो, रमी, क्रिकेट के खेलों में खेलकर कोटा में खर्च करने की बात कबूली हैं। एक लाख रूपये की धनराशि फेडरेल बैंक के खाते में फ्रिज करायी गई है। पकड़े गए तीन मोबाइल, दो चेक बुक, चार आधार कार्ड बराबमद हुए हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/निमित


 rajesh pande