एसएमएस अस्पताल से अपहृत बालक का तीसरे दिन भी नहीं लगा सुराग
जयपुर, 5 अगस्त (हि.स.)। एसएमएस अस्पताल से अपहरण हुए चार माह के दिव्यांश का तीसरे दिन भी सुराग नहीं
एसएमएस अस्पताल से अपहृत बच्ची मामला:तीसरे दिन भी नहीं लगा बच्ची का कोई सुराग


जयपुर, 5 अगस्त (हि.स.)। एसएमएस अस्पताल से अपहरण हुए चार माह के दिव्यांश का तीसरे दिन भी सुराग नहीं लगा। पुलिस के सभी प्रयास फेल हो रहे हैं। लोग अपने सोशल मीडिया के माध्यम से आरोपित की फोटो वायरल कर रहे हैं। पुलिस की ओर से जारी किए गए पोस्टर की फोटो लोग अपने व्हाट्सएप, फेसबुक, ट्विटर व अन्य माध्यमों से अधिक से अधिक वायरल कर रहे हैं। सोशल मीडिया यूजर्स आरोपित की जल्द से जल्द सूचना देने की अपील कर रहे हैं।

दिव्यांश और अपहरणकर्ता युवक की तलाश में सीकर, दौसा, कोटा और मध्यप्रदेश के खरगोन, देवास व उज्जैन भी पुलिस टीम भेजी है। पुलिस ने अपहरणकर्ता की पुख्ता सूचना देने वाले को पांच हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की है। इसके अलावा बच्चे व अपहरणकर्ता की फोटो के चार हजार पोस्टर छपवाए हैं, ताकि जयपुर से बाहर भी इन पोस्टरों को भेजकर बच्चे व अपहरणकर्ता की तलाश की जा सके।आरोपित की फुटेज के आधार पर एसएमएस अस्पताल के आस-पास खानाबदोश, फुटकर व्यापारी और अन्य दुकानों से भी जानकारी ली जा रही है। शहर में ई-रिक्शा,ऑटो व कैब चालकों से भी फुटेज के आधार पर पूछताछ की जा रही है।

उधर, मां कैला देवी और दादी ढोली देवी बच्चे को यादकर बेसुध हो जाती हैं। गौरतलब है कि बुधवार शाम को एसएमएस अस्पताल से दौसा के चांदराना निवासी अंकुर योगी के छोटे पुत्र दिव्यांश को अगवा कर लिया गया था। पुलिस की जांच पडताल में सामने आया कि बच्चा ले जाने वाला युवक बोल चाल से मध्यप्रदेश निवासी लगता है। वहीं मध्यप्रदेश में भी छोटे बच्चे अगवा करने की घटनाएं होना बताया गया है। इस पर मध्यप्रदेश के खरगोन, देवास और उज्जैन में पुलिस टीमें भेजी गई हैं। वहां पर बच्चे अगवा करने वालों का रिकॉर्ड भी खंगाला जा रहा है।

हिन्दुस्थान समाचार/ दिनेश/संदीप

 

 rajesh pande