जीएसटी टीम ने फर्जी कंपनी के नाम पर पकड़ी करोड़ों की टैक्स चोरी
हरिद्वार, 19 अगस्त (हि.स.)। जीएसटी की स्पेशल टीम ने जनपद के मंगलौर में दो ट्रकों से करोड़ों रुपये का
जीएसटी टीम ने फर्जी कंपनी के नाम पर पकड़ी करोड़ों की टैक्स चोरी


हरिद्वार, 19 अगस्त (हि.स.)। जीएसटी की स्पेशल टीम ने जनपद के मंगलौर में दो ट्रकों से करोड़ों रुपये का माल जब्त किया है। इस दौरान टीम ने एक करोड़ रुपये की कर चोरी को भी पकड़ी है। टीम ने मंगलौर में इस काम को अंजाम देने वाली एक सिर्फ कागजों में संचालित फर्म पर दबिश दी। जीएसटी की टीम इस मामले में गहराई से जांच कर रही है।

शुक्रवार को जीएसटी स्पेशल इन्वेस्टीगेशन ब्रांच की ज्वाइंट कमिश्नर सुनीता पांडे ने बताया कि गुरुवार को विभागीय टीम ने कोटद्वार में दो गाडि़यों को रोका और गाड़ियों के कागज चेक किए गए। यह वाहन मंगलौर से माल लोड करके पश्चिम बंगाल के लिए जाना था। फर्म की जब ऑनलाइन जांच की गई तो पता चला कि इस फर्म की सभी खरीद मुजफ्फरनगर से और बिक्री पश्चिम बंगाल व हिमाचल प्रदेश के लिए थी।

इन दोनों ट्रकों की जब जांच की गई तो, पता चला कि यह ट्रक ऐसे किसी रास्ते ट्रैक पर ही नहीं हुए, जहां से आना यह बता रहे थे। देर शाम तक हुई जांच में फिलहाल इसमें 80 लाख से एक करोड़ रुपये तक की चोरी प्रथमदृष्टया प्रकाश में आई है, जो मंगलौर में पंजीकृत कराई गई फर्म द्वारा की गई है। कोटद्वार में पकड़ी गए दोनों गाडि़यों पर 10 लाख रुपये की पेनल्टी लगाई गई है। पांडे ने बताया कि मंगलौर स्थित मैसर्स बालाजी ट्रेडर्स के यहां कागजों पर करोड़ों रुपये का काम होता है, लेकिन जीएसटी की टीम जब उसके रजिस्टर्ड कार्यालय पर पहुंची तो वहां पर टीम को एक मेज और कुर्सी के सिवा कुछ नहीं मिला। एक मकान की ऊपरी मंजिल पर स्थित इस दफ्तर में कोई कर्मचारी तक मौजूद नहीं था।

हिन्दुस्थान समाचार/ रजनीकांत

 

 rajesh pande