नेता प्रतिपक्ष दिग्भ्रमित, कांग्रेस सरकार के खिलाफ झूठे आरोप लगा रहे : कांग्रेस
रायपुर, 19 अगस्त (हि.स.)। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने शुक्रवार को बयान जारी कर कहा कि नेता
नेता प्रतिपक्ष दिग्भ्रमित, कांग्रेस सरकार के खिलाफ झूठे आरोप लगा रहे : कांग्रेस


रायपुर, 19 अगस्त (हि.स.)। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने शुक्रवार को बयान जारी कर कहा कि नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल के पहले जो लोग भाजपा का नेतृत्व करते थे उनके साथ जो समस्या थी, वही समस्या उनके साथ भी है। वे भी कांग्रेस सरकार के खिलाफ मुद्दों की कमी से जुझ रहे हैं, वे समझ ही नहीं पा रहे कि कांग्रेस सरकार के खिलाफ क्या आरोप लगाये, इसलिये कुछ भी बयानबाजी कर सुर्खियां बटोरने की कोशिश में है।

उन्होंने कहा कि बीते विधानसभा सत्र में भाजपा, कांग्रेस सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लायी थी लेकिन उसके अविश्वास प्रस्ताव के मुद्दे औंधे मुंह गिर गये थे, अब उन्हीं मुद्दों पर वे बयानबाजी कर रहे हैं। नारायण चंदेल कहते है सरकार श्वेत पत्र जारी करे। बेरोजगारी के मुद्दे पर श्वेत पत्र केन्द्र सरकार से मांगना चाहिए। क्योंकि केन्द्र हर साल दो करोड़ रोजगार देने का वादा किया था। केंद्र बताए कितना रोजगार दिया। नारायण चंदेल को कांग्रेस की सरकार के साढ़े तीन साल और भाजपा के 15 सालों का तुलनात्मक अध्ययन करना चाहिये, उन्हें राज्य की जमीनी हकीकत का सही आंकलन मिल जायेगा। राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद किसानों की स्थिति में हुये क्रांतिकारी परिवर्तन की जानकारी मिल जायेगी। जिस प्रदेश में भाजपा के राज में किसान आत्महत्या को मजबूर थे उसी छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के राज में किसान खुशहाल हुये हैं।

मरकाम ने कहा कि नारायण चंदेल भले ही नेता प्रतिपक्ष नये बने है लेकिन विधायक तो पुराने है उन्हें राज्य के आंकड़ों की जानकारी होगी, इतना तो माना ही जा सकता है रमन राज में छत्तीसगढ़ में बेरोजगारी दर 22 प्रतिशत थी कांग्रेस के राज में राज्य की बेरोजगारी दर 0.78 प्रतिशत है। यह बताता है कि छत्तीसगढ़ के युवाओं को कांग्रेस सरकार रोजगार उपलब्ध करवाने में देश में अव्वल है।

हिन्दुस्थान समाचार/ चंद्रनारायण शुक्ल

 

 rajesh pande