राजीव गांधी के भारत के शेष अधूरे कार्यों को पूरा करना हमारा संकल्प : डॉ. महंत
विस अध्यक्ष ने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती सदभावना दिवस पर दी श्रद्धांजलि रायप
राजीव गांधी के भारत के शेष अधूरे कार्यों को पूरा करना हमारा संकल्प : डॉ. महंत


विस अध्यक्ष ने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती सदभावना दिवस पर दी श्रद्धांजलि

रायपुर, 19 अगस्त (हि.स.)। छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने संचार क्रांति के स्वप्न दृष्टा भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती अवसर पर उन्हें स्मरण करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की है।

डॉ. चरणदास महंत ने कहा कि भारत की तस्वीर को बेहतर बनाने में उनके योगदान का वर्णन करना मुमकिन नहीं है। भारत रत्न राजीव गांधी देश के सबसे युवा प्रधानमंत्री थे। उनकी सोच हम सबको आज भी प्रेरणा देती है। डॉ. महंत ने कहा कि समूचा भारत राष्ट्र निर्माण में आपके योगदान को सदैव याद करता है और हमेशा याद रखेगा।

उन्होंने कहा कि भारत में कंप्यूटर ( इंटरनेट ब्रॉडबैंड ) की शुरुआत कर संचार क्रांति के नए युग की आधारशिला रखी, देश के विकास को नई गति दी। युवा भारत की नींव रखी, देश में 18 वर्ष के युवाओं को मताधिकार का अधिकार दिया। त्रिस्तरीय पंचायती राज की कल्पना को मूर्त रूप दिया और ग्रामीण क्षेत्रों की जनता को प्रजातंत्र के रास्ते नयी पहचान दी। मेधावी बच्चों को अच्छी शिक्षा और सुविधा देने के लिए एनपीई की मदद से जवाहर नवोदय विद्यालयों की शुरुआत हुई। राजीव गांधी जी ने अर्थव्यवस्था के सेक्टर्स को खोला, साल 1988 में की उनकी चीन यात्रा ऐतिहासिक थी।

डॉ. महंत ने कहा कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के जन्मदिन को सदभावना दिवस के रूप में मनाया जाता है, हम सब आज यह संकल्प लेते हैं कि राजीव के सपनों के भारत के शेष अधूरे कार्यों को पूरा करने हर संभव प्रयास करते रहेंगे।

हिन्दुस्थान समाचार/ चंद्रनारायण शुक्ल

 

 rajesh pande