सलमान रुश्दी पर हमले में हाथ होने से ईरान का साफ इनकार
तेहरान, 15 अगस्त (हि.स.)। ईरान ने प्रख्यात लेखक सलमान रुश्दी पर न्यूयॉर्क में हुए हमले में किसी भी
सलमान रुश्दी। 


तेहरान, 15 अगस्त (हि.स.)। ईरान ने प्रख्यात लेखक सलमान रुश्दी पर न्यूयॉर्क में हुए हमले में किसी भी तरह का हाथ होने से साफ इनकार किया है। इस बाबत ईरान के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर स्पष्टीकरण दिया है।

भारतीय मूल के प्रख्यात लेखक सलमान रुश्दी पर बीती 12 अगस्त को पश्चिमी न्यूयॉर्क में हमला हुआ था। 75 वर्षीय सलमान रुश्दी पर हमला उस समय हुआ था, जब वे एक सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए गए थे। वे सभागार के मंच पर पहुंचे थे कि एक युवक वहां पहुंचा और पहले उन पर मुक्कों की बरसात कर उन्हें गिरा दिया, फिर चाकू से हमला किया। वे गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती हैं और हमलावर को मौके पर ही पकड़ लिया गया था।

इस हमले में ईरान की ओर शक की सुई इसलिए जा रही थी, क्योंकि रुश्दी की किताब 'द सैटेनिक वर्सेज' के प्रकाशन की निंदा करते हुए 1989 में ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला खोमेनी ने उनके खिलाफ फतवा जारी किया था। न्यूयॉर्क में रुश्दी पर हमला करने वाले की पहचान 24 वर्षी हादी मतार के रूप में हुई है। वह ईरान का बड़ा समर्थक है। उसके सोशल मीडिया एकाउंट्स से इस बात की पुष्टि भी हुई है।

ईरान पर हमले को लेकर शक किये जाने के बाद ईरान ने इस मसले पर सफाई दी है। ईरान के विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर इस घटना में किसी तरह की भूमिका से साफ इनकार किया है। ईरानी विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि रुश्दी पर हमले से ईरान का कोई लेना-देना नहीं है।

हिन्दुस्थान समाचार/ संजीव मिश्र

 

 rajesh pande