मुस्लिम यूनिवर्सिटी के बहाने अपनी साख बचाने की तैयारी में हरदा: मनवीर चौहान
देहरादून, 02 जुलाई (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मीडिया प्रभारी ने एक बार हरीश रावत के मुस्
मनवीर चौहान 


देहरादून, 02 जुलाई (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मीडिया प्रभारी ने एक बार हरीश रावत के मुस्लिम यूनिवर्सिटी के बयानों पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि अपनी साख बचाने के लिए हरदा आखिरी दांव के चल रहे हैं।

भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने एक जारी बयान में कहा कि मुस्लिम यूनिवर्सिटी की घोषणा का खुलासा किसी भाजपा पदाधिकारी ने नहीं, बल्कि स्वयं उस मीटिंग में मौजूद उनकी ही पार्टी के पदाधिकारी ने किया था। बेहतर होता हरदा उसी समय अपने पदाधिकारी के खिलाफ मुक़द्दमा दर्ज़ कराते, लेकिन एक वर्ग विशेष के वोटों के लालच में उन्होंने इस मुद्दे को कभी पूरी तरह से नकारा भी नहीं।

उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक यूनिवर्सिटी विवाद को लेकर हरीश रावत अब भाजपा को जिम्मेदार ठहराकर कोर्ट जाने की बात कर रहे हैं। चुनाव के दौरान सहसपुर क्षेत्र में तथाकथित शिक्षा के सांप्रदायिकरण वाले बयान को बंद कमरों से बाहर लाने वाला कोई और नहीं बल्कि उनकी ही पार्टी का जिम्मेदार पदाधिकारी था। लेकिन तब तो उन समेत सभी कांग्रेस नेता इस मुद्दे पर चुप रहकर तुष्टीकरण में लगे रहे। फिर जब लगा मनमुताबिक फायदा मिल गया है और आगे अन्य जगह पर इस मुद्दे से नुकसान हो सकता है। यह जानकर उस पदाधिकारी को पार्टी से निलंबित कर दिया।

उन्होंने सवाल किया कि यदि इस मुद्दे पर इतनी ही आपत्ति थी तो तत्काल अपने पार्टी पदाधिकारी के खिलाफ मुक़द्दमा दर्ज़ कराना चाहिए था। लेकिन हरदा बखूबी जानते थे कि उसका नुकसान उन्हें अल्पसंख्यक वोटों के रूप में हो सकता है। इसलिए कुछ नहीं किया और इस तुष्टीकरण के मुद्दे की दोधारी तलवार लेकर चलते रहे।

हरीश रावत भाजपा पर झूठा आरोप लगाकर कोर्ट जाने का शिगूफ़ा छोड़ रहे हैं। आम जन कांग्रेस के इस तरह के पैंतरों को बखूबी समझती है। इसलिए उनके बहकी बातों को कोई सुनने वाला नहीं है।

हिन्दुस्थान समाचार/राजेश


 rajesh pande