हरियाणा में नहरों पर लगेंगे सौर ऊर्जा प्लांट: रणजीत सिंह
सिरसा, 2 जुलाई(हि.स.)। हरियाणा के बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार बिजली के मामले में
बिजली मंत्री अपने निवास पर आमजन की समस्याएं सुनतें हुए।


सिरसा, 2 जुलाई(हि.स.)। हरियाणा के बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार बिजली के मामले में राज्य को पूरी तरह से आत्मनिर्भर बनने के लिए गंभीरता से कार्य कर रही है। प्रदेश में जहां नए पावर प्लांट लगाने की योजना बनाई जा रही है, वहीं सौर ऊर्जा पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। नवीन एवं नवीकरणीय विभाग ने प्रदेश की नहरों पर सोलर पैनल के जरिये पावर प्लांट लगाने का प्रस्ताव बनाया जा रहा है।

बिजली मंत्री रणजीत सिंह शनिवार को सिरसा स्थित अपने निवास पर आमजन की समस्याएं सुनने के बाद पत्रकारों से वार्ता की। उन्होंने बताया कि प्रदेश में बड़ी नहरों के दोनों ओर सोलर पैनल लगाए जाएंगे। यह पैनल इस तरह लगेंगे कि इससे नहरों के साइड की पगडंडी भी कवर हो जाएं और नहरों पर भी इसका हिस्सा आए। इसके लिए बाकायदा डिजाइन तैयार किया जा रहा है, जो देखने में भी सुंदर लगेगा। नहरों के ऊपर सोलर पैनल लगाने के पीछे वैज्ञानिक कारण भी हैं। बिजली मंत्री ने कहा कि सौर ऊर्जा को बढ़ावा देना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना है और मुख्यमंत्री मनोहर लाल इसे पूरी गंभीरता से ले रहे हैं। जल्द ही मुख्यमंत्री से चर्चा करके इस योजना को अमलीजामा पहनाया जाएगा। इसी के चलते हरियाणा सरकार ने नहरों के जरिए इसकी शुरुआत करने की योजना बनाई है। भाखड़ा मुख्य ब्रांच से जुड़ी हरियाणा की नहरों के अलावा उन सभी बड़ी नहरों पर सोलर पैनल लगेंगे, जिनकी लम्बाई काफी अधिक है। बिजली उत्पादन के लिए चार जगहों - जींद, कैथल, नरवाना व फतेहाबाद में पराली आधारित प्लांट लगेंगे। इन प्लांट्स से न केवल बिजली का उत्पादन होगा बल्कि कम्प्रेस्ड बायोगैस भी उत्पादित होगी। इस बायोगैस का छोटी गाडिय़ों (कार) में ईंधन के रूप में इस्तेमाल हो सकेगा।

नहरों पर सोलर प्लांट लगाने के वैज्ञानिक कारण

बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने बताया कि जब पानी के ऊपर पैनल लगेंगे तो पानी में मॉइस्चर बनेगा और इससे बिजली का उत्पादन जल्दी और अधिक होगा। अमेरिका सहित कई देशों में इस तरह के प्लांट पहले से लगे हुए हैं। पंजाब ने भी इस तरह की शुरुआत की है, लेकिन यह पहली स्टेज पर है। इसके लिए बाकायदा पूरी कार्ययोजना तैयार हो रही है।

हिन्दुस्थान समाचार/रमेश/संजीव


 rajesh pande