राज्यपाल ने मैट्रिक एवं हायर सेकंडरी के मेधावी विद्यार्थियों को किया सम्मानित
-विद्यार्थियों से राष्ट्रवाद की भावना जगाने का आह्वान गुवाहाटी, 2 जुलाई (हि.स.)। असम के राज्यपाल प्
Governor


-विद्यार्थियों से राष्ट्रवाद की भावना जगाने का आह्वान

गुवाहाटी, 2 जुलाई (हि.स.)। असम के राज्यपाल प्रो. जगदीश मुखी ने कहा कि छात्रों में राष्ट्रवाद, अच्छे नैतिक चरित्र और देशवासियों के प्रति प्रेम की भावना पैदा करके उन्हें भविष्य के लिए स्वयं को तैयार करना चाहिए।

राज्यपाल प्रो. मुखी शनिवार को राजभवन में आयोजित मैट्रिक एवं हायर सेकंडरी परीक्षा 2022 के प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने वालों के सम्मान समारोह में बोल रहे थे। राज्यपाल ने कहा, मुझे राज्य के टॉपर्स को सम्मानित करते हुए खुशी हो रही है, जिन्होंने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया और अपनी मैट्रिक और हायर सेकंडरी परीक्षाओं, 2022 में पहले तीन स्थान हासिल किए। उनकी ओर से यह सराहनीय सफलता वास्तव में है। उनके अथक परिश्रम, लगन और अपने शिक्षकों और माता-पिता के उत्कृष्ट मार्गदर्शन का परिणाम है। निश्चय ही यह आपकी विजय है और यह आपके लगन और निश्चय ही मेहनत के कारण आई है।

राज्यपाल ने कहा कि शिक्षा किसी भी प्रगतिशील देश की इमारत की आधारशिला है। यह न केवल छात्रों को बौद्धिक क्षमता प्राप्त करने में सहायता करता है, बल्कि मूल्यों और तर्कसंगतता को आत्मसात करके उनके चरित्र का निर्माण करने में भी मदद करता है। राज्यपाल ने घोषणा की कि हर साल टॉपर्स को सम्मानित करने का कार्यक्रम जारी रहेगा।

उल्लेखनीय है कि मैट्रिक और हायर सेकंडरी दोनों टॉपर्स के लिए प्रथम स्थान धारकों को 75,000 रुपये नकद, दूसरे स्थान धारकों को 50,000 रुपये और तीसरे स्थान धारकों को 40,000 रुपये पुरस्कार के साथ प्रशंसा पत्र और पारंपरिक गामोछा से सम्मानित किया गया। टॉपर्स के स्कूल और कॉलेजों के प्रधानार्यों को भी सम्मानित किया गया। समारोह में असम की प्रथम महिला प्रेम मुखी, चांसलर एवं सचिवालय के सलाहकार प्रो. मिहिर कांति चौधरी, सेबा के अध्यक्ष आरसीजैन, शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारी, टॉपर्स के माता-पिता और शिक्षकों के साथ-साथ अन्य सम्मानित व्यक्ति मौजूद थे।

हिन्दुस्थान समाचार/ अरविंद


 rajesh pande