योगाभ्यास नियमित करना जरूरी-योग प्रशिक्षिका
फर्रुखाबाद, 23जून (हि. स.) योग नियमित अभ्यास से अपना असर दिखाता है।किसी विशेष अवसर पर योग करके बंद क
योगाभ्यास नियमित करना जरूरी-योग प्रशिक्षिका


फर्रुखाबाद, 23जून (हि. स.) योग नियमित अभ्यास से अपना असर दिखाता है।किसी विशेष अवसर पर योग करके बंद कर देना गलत है। यह बात गुरुवार को पतंजलि योग की शिक्षक स्नेह लता यादव ने कही। श्रीमती यादव ने कहा कि देखा गया है कि लोग योग दिवस पर योग करके योग करने वालो में अपना नामदर्ज करा कर बैठ जाते है। उन्होंने कहा कि योग वह विधा है जिसके माध्यम से रोगों पर विजय प्राप्त की जा सकती है। शरीर को निरोगी बनाया जा सकता है।लेकिन योग का अभ्यास रोज होना चाहिए। योग जहां शरीर को मजबूत बना साधक के अंदर रोग प्रतिरोधक क्षमता पैदा करता है वही आत्म बल को मजबूत कर अन्तःकरण को शुद्ध करता है।आज हमारे ऋषि मुनियों ने हमे जो विधा दी है।उसका डंका विश्व मे बज रहा है। योग के सम्बंध में कहा गया है कि--

अभ्यास योग करते करते मन विषय रहित हो जाता है।

अभ्यास योग जिन कर लीना वह परमेश्वर को पाता है।

योग प्रशिक्षिका ने कहा कि जिन भाई बहनों ने अंतराष्ट्रीय योग दिवस पर योग की शरुआत की है। वह अपना अभ्यास निरन्तर जारी रखे।इससे उनको शांति का अनुभव होगा तथा शरीर निरोग्य हो जाएगा। जो लोग कभी कभार योग करते है उनके लिए योग घातक सिद्ध हो सकता है। योग के बेहतर परिणाम जानने के लिये रोज योग करना जरूरी है।

बताते चलें कि योग प्रशिक्षिका स्नेहलता यादव राजपूत रेजिमेंट व सिखलाइट रेजिमेंट में जवानों औऱ अधिकारियों की पत्नियों को योगाभ्यास कराती है। अंतर्राट्रीय योग दिवस पर अधिकारियों ने उनकी मुक्त कंठ से सराहना की थी।

हिन्दुस्थान समाचार/चन्द्रपाल


 rajesh pande