सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर उत्पात करने के मामले में अब तक 45 गिरफ्तार
हैदराबाद, 20 जून (हि.स.)। सिकंदराबाद रेलवे पुलिस ने अग्निपथ योजना के विरोध प्रदर्शन के दौरान कई ट्रे
सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर उत्पात करने के मामले में अब तक 45 गिरफ्तार


हैदराबाद, 20 जून (हि.स.)। सिकंदराबाद रेलवे पुलिस ने अग्निपथ योजना के विरोध प्रदर्शन के दौरान कई ट्रेनों को नुकसान पहुंचाने के मामले में 46 लोगों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में अभी भी दो हजार लोगों की पहचान की जारी जा रही है।

सिकंदराबाद रेलवे पुलिस अधीक्षक बी. अनुराधा ने सोमवार को बताया कि युवकों को उकसाने में रेलवे भर्ती केंद्र संचालन करने वालों की भूमिका खुलकर सामने आई है। आंदोलन को भड़काने के लिए व्हाट्सएप पर रेलवे स्टेशन ब्लॉक, इंडियन आर्मीअग्रुप, हकीमपेट आर्मी सोल्जर्स ग्रुप, चलो सिकंदराबाद, एआरओ-3 ग्रुप, आर्मी जीडी जी 2021 मार्च रैली, सीईई सोल्जर्स ग्रुप, ग्रुप सोल्जर्स टू डाई ग्रुप के अलावा अन्य कई के ग्रुप बनाये गए। इन ग्रुपों के लिंक केंद्र चलाने वालों ने सेना की भर्ती के लिए तैयारी करने वाले युवाओं को शेयर किया गया।

उन्होंने बताया कि 17 जून को सुबह 9 बजे के आसपास लगभग दो हजार प्रदर्शनकारियाें ने गेट नंबर-3 से रेलवे स्टेशन के भीतर घुसकर हिंसक प्रदर्शन किया और ईस्ट कोस्ट एक्सप्रेस, अंजता एक्सप्रेस, राजकोट एक्सप्रेस, गरीबरथ एक्सप्रेस, सबरी एक्सप्रेस, रायपुर एक्सप्रेस को नुकसान पहुंचाया। इन प्रदर्शनकारियों ने अलावा प्लेटफॉर्म 1, 2 और 6 तथा लोको इंजनों को क्षतिग्रस्त किया। उन्होंने बताया कि इस मामले में 46 लोगों को इस मामले में गिरफ्तार किया गया है और लगभग दो हजार लोगों की तलाश की जा रही है। पुलिस अधीक्षक अनुराधा ने कहा है कि रेलवे स्टेशन पर हमला की कोई पूर्व सूचना नहीं थी और न इतने बड़े पैमाने पर हमले और हिंसा की आशंका थी।

उन्होंने बताया कि रेल सुरक्षा बल ने प्रदर्शनकारियों पर 20 राउंड की फायरिंग की थी, जिसमे एक युवक की मौत हुई थी। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के पास से 44 सेलफोन जब्त किए हैं, जिनमे हिंसक प्रदर्शन के लिए भड़काने वाले व्हाट्सएप ग्रुप मिले हैं। पुलिस अधीक्षक ने युवाओं से बहकावे में आकर अपने भविष्य को खराब नहीं न करने की अपील की है।

हिन्दुस्थान समाचार /नागराज


 rajesh pande