इतिहास के पन्नों में 26 मईः नरेन्द्र मोदी ने 2014 में संभाली देश की बागडोर
देश-दुनिया में कुछ तिथियां मील का पत्थर बनकर इतिहास के पन्नों में स्वर्णिम अक्षरों में अंकित हो जाती
2014ः नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेते हुए।


देश-दुनिया में कुछ तिथियां मील का पत्थर बनकर इतिहास के पन्नों में स्वर्णिम अक्षरों में अंकित हो जाती हैं। इस लिहाज से भारत के लोकतांत्रिक इतिहास में 26 मई का खास महत्व है। 2014 के आम चुनाव में भाजपा और सहयोगी दलों की शानदार जीत के बाद नरेन्द्र मोदी ने 26 मई को देश के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी। 2019 में मोदी ने लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री का पद संभाला। इस बार भी 26 मई की खास महत्व रहा। 26 मई, 2019 को राष्ट्रपति भवन से जारी विज्ञप्ति में जानकारी दी गई कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द 30 मई को नरेन्द्र मोदी को राष्ट्रपति भवन में पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे।

यह तारीख अंतरिक्ष के क्षेत्र में भी भारत के लिए महत्वपूर्ण है। पहले अंतरिक्ष में अमेरिका, रूस जैसे देशों का दबदबा था। 26 मई, 1999 को भारत के अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान संस्थान (इसरो) ने भारत, जर्मनी और दक्षिण कोरिया के तीन उपग्रहों को सफलतापूर्वक अंतरिक्ष की कक्षा में स्थापित किया।

घटनाचक्र

1679: ब्रिटेन की संसद में बंदी प्रत्यक्षीकरण कानून पारित। इसे दुनिया का पहला मनुष्य की निजी आजादी का मानवाधिकार कानून माना जाता है।

1739: मुगल बादशाह मोहम्मद शाह और ईरान के नादिर शाह के बीच संधि। इसके परिणामस्वरूप अफगानिस्तान, भारत से अलग हुआ।

1805: नेपोलियन को इटली के राजा का ताज पहनाया गया।

1822: नार्वे के ग्रू चर्च में आग से 116 लोगों की मौत।

1918: जॉर्जिया लोकतांत्रिक गणराज्य बना।

1926: लेबनान में संविधान को अंगीकार किया गया।

1950: ब्रिटेन में पेट्रोल खरीदने पर लगी सीमा खत्म। इससे पहले पेट्रोल खरीदने के लिए राशन कार्ड दिया जाता था।

1955: चार्ल्स इवान्स ने दुनिया की तीसरे सबसे ऊंची पर्वत चोटी कंचनजंघा पर विजय प्राप्त की। इसकी ऊंचाई 8585 मीटर है।

1966: ब्रिटिश गुयाना ने स्वतंत्रता प्राप्त की और गुयाना बन गया।

1969: अपोलो 10 पृथ्वी पर आने वाले सभी घटकों के सफल आठ-दिवसीय परीक्षण के बाद वापस लौटा। अपोलो 10 संयुक्त राज्य अपोलो अंतरिक्ष कार्यक्रम में चौथा मानवयुक्त मिशन था।

1972: विलंड्रा नेशनल पार्क ऑस्ट्रेलिया में स्थापित किया गया।

1972: अमेरिका और सोवियत संघ ने एंटी बैलिस्टिक मिसाइल संधि पर हस्ताक्षर किए।

1983: जापान में भूकंप में 104 लोगों की मौत।

1999: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने भारत, जर्मनी और दक्षिण कोरिया के तीन उपग्रहों को सफलतापूर्वक कक्षा में स्थापित किया।

2006: इंडोनेशिया के जावा में भूकंप। 5700 से अधिक लोगों की मौत।

2008: पूर्वी और दक्षिणी चीन में बाढ़ से 148 लोगों की मौत।

2009: उत्तर कोरिया ने अपने दूसरे परमाणु उपकरण का कथित तौर पर परीक्षण किया।

2014: भाजपा के शीर्ष नेता नरेन्द्र मोदी ने भारत के 15वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली।

हिन्दुस्थान समाचार/ मुकुंद


 rajesh pande