Custom Heading

जनकपुर-अयोध्या के बीच उड़ान सेवा पर हो रहा विचार
-नेपाल की विमानन कंपनी बुद्धा एयर के अधिकारियों ने की नवनीत सहगल से मुलाकात -मुख्यमंत्री के सामने जन
अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल


-नेपाल की विमानन कंपनी बुद्धा एयर के अधिकारियों ने की नवनीत सहगल से मुलाकात

-मुख्यमंत्री के सामने जनकपुर और अयोध्या के बीच उड़ान सेवा का प्रस्ताव रखने के लिए समय मांगा

लखनऊ, 14 मई (हि.स.)। नेपाल के जनकपुर और अयोध्या के बीच उड़ान सेवा शुरू करने की दिशा में पहल शुरू हो गयी है। नेपाल की विमानन कंपनी बुद्धा एयर प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक विरेन्द्र बहादुर बस्नेत की अगुआई में अधिकारियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को लोकभवन में अपर मुख्य सचिव (सूचना) नवनीत सहगल से मुलाकात कर जनकपुर और अयोध्या के बीच उड़ान सेवा शुरू करने के प्रस्ताव के संदर्भ में एक पत्र सौंपा है।

पत्र में बुद्धा एयर द्वारा उल्लेख किया गया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी और काठमांडू के बीच सीधी उड़ान सेवा साल 2018 में शुरू की थी। उसकी वजह से बाबा विश्वनाथ और बाबा पशुपतिनाथ के दर्शन पूजन के लिए आने वाले यात्रियों से काफी लाभ हुआ। साथ ही इससे दोनों देशों में पर्यटन को बढ़ावा मिला। दोनों देशों के रिश्ते और प्रगाढ़ हुए।

पत्र में आगे लिखा है कि कोरोना महामारी के दौरान उड़ान सेवा स्थगित हो गई थी। विभाग से अनुमति मिल जाने के बाद 23 मई 2022 से उड़ान सेवा पुनः शुरु हो रही है। भगवान राम की जन्मभूमि अयोध्या से नेपाल के लोगों का विशेष लगाव है। हमारे लिए भी अयोध्या आस्था का केन्द्र है।

बुद्धा एयर माता सीता की जन्मभूमि जनकपुर और अयोध्या के बीच उड़ान सेवा शुरू करना चाहती है। इसके लिए कंपनी के प्रबंध निदेशक विरेन्द्र बहादुर बस्नेत ने मुख्यमंत्री योगी से मिलने का अनुरोध भी किया। इसके अलावा नेपाल के प्रमुख स्थलों से हरिद्वार और अन्य स्थलों के लिए हवाई सेवा की संभावनाओं पर भी अपर मुख्य सचिव से चर्चा हुई। प्रतिनिधि मंडल में बुद्धा एयर के प्रबंधक उद्धव सुवेदी के अलावा, स्टेशन मैनेजर विनीत शाह सुजान सिजापति एवं हुनर सुवेदी आदि शामिल थे।

हिन्दुस्थान समाचार/ दिलीप शुक्ला


 rajesh pande