एपीपीएससी परीक्षा पेपर लीक मामले की जांच में खामियों का आरोप
इटानगर, 30 नवंबर (हि.स.)। अरुणाचल प्रदेश पब्लिक सर्विस कमीशन (एपीपीएससी) परीक्षा पेपर लीक मामले में
एपीपीएससी परीक्षा पेपर लीक मामले की जांच में खामियों का आरोप


इटानगर, 30 नवंबर (हि.स.)। अरुणाचल प्रदेश पब्लिक सर्विस कमीशन (एपीपीएससी) परीक्षा पेपर लीक मामले में चल रही जांच में कई खामियां हैं और राज्य सरकार ऑल अरुणाचल प्रदेश स्टूडेंट यूनियन (आपसू), ऑल निशी स्टूडेंट यूनियन (आनसू) और प्रतिभागियों को दिए गए आश्वासन के अनुसार काम नहीं कर रही है।

हम देख रहे हैं कि जांच एजेंसियां और राज्य सरकार आपसू और अनसू की मांगों के अनुसार पेपर लीक मामले पर काम नहीं कर रही हैं। इसलिए हम राज्य सरकार के विरोध में आगामी 3 दिसंबर को जनमत संग्रह रैली आयोजित करने जा रहे हैं। ये बातें बुधवार को अरुणाचल प्रेस क्लब में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए अनसू के उपाध्यक्ष रहीम यांगफो कही।

उन्होंने कहा कि हमारी मांग में एपीपीएससी के पूर्व अध्यक्ष नबाम निपो, सचिव जयंत कुमार राय एवं अन्य सभी अधिकारियों को तत्काल गिरफ्तार कर पूछताछ की जाए, लेकिन राज्य सरकार अभी भी उन्हें गिरफ्तार करने में विफल रही है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार यह भी स्पष्ट नहीं कर रही है कि उन अधिकारियों को गिरफ्तार क्यों नहीं करना चाहिए या समन क्यों नहीं देना चाहिए।

एपीपीएससी की विफलता राज्य के लिए एक बड़ा मुद्दा ,है क्योंकि उन्होंने राज्य के भविष्य की हत्या की है। इसलिए वे अपनी आपराधिक गतिविधियों के लिए कड़ी सजा के पात्र हैं।

यांगफो ने दावा किया कि हम देख रहे हैं कि सीबीआई और एसआईसी ने अभी तक आपसू की वास्तविक मांगों की जांच नहीं की है। उन्होंने बताया कि रैली के दौरान राज्य सरकार के सामने अपनी अन्य अतिरिक्त मांगों को रखेंगे, जिसमें ईडी और अदालत की निगरानी/न्यायिक जांच, पेपर लीक मामले में शामिल सभी राज्य सरकार के अधिकारियों को तत्काल बर्खास्त करना, परीक्षा जहां पेपर लीक पाया गया सभी परीक्षा खारीज करने, जांच प्रक्रिया पूरी होने तक कोई परीक्षा आयोजित नहीं की जानी चाहिए, संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा एपीपीएससी परीक्षा कराने अदि मांगे शामिल हैं।

हिन्दुस्थान समाचार /तागू/अरविंद