मुख्यमंत्री की फटकार के बाद शिविर लगाकर बांटे जा रहे हैं शीत वस्त्र
कोलकाता, 30 नवंबर (हि.स.)। वनबीबी पूजा के मौके पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार
मुख्यमंत्री की फटकार के बाद शिविर लगाकर बांटे जा रहे हैं शीत वस्त्र


कोलकाता, 30 नवंबर (हि.स.)। वनबीबी पूजा के मौके पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को हिंगलगंज में वितरण करने के लिए समय पर 15 हजार शीत वस्त्र नहीं मिलने पर सरकारी अधिकारियों की कड़ी आलोचना की। इसके बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया। बुधवार को हिंगलगंज, संदेशखाली समेत सुंदरवन के विशाल इलाकों में शिविर लगा कर सर्दी के कपड़ों का वितरण शुरू किया गया। राज्य के वन मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक ने कहा कि वे लोगों को ऑटो और नाव से शिविर में ला रहे हैं और उन्हें सर्दियों के कपड़े मुहैया करा रहे हैं।

मुख्यमंत्री मंगलवार को हिंगलगंज में शासकीय सेवा वितरण समारोह में उपस्थित थी। लेकिन बैठक शुरू होने के कुछ देर बाद उन्हें पता चला कि बीडीओ कार्यालय में उनकी ओर से भेजे गए 15 हजार शीत वस्त्र वितरण के लिए आयोजन स्थल पर नहीं पहुंचे हैं। उन्होंने बैठक में मौजूद लोगों से कहा कि आप बैठ जाइए, मैं भी बैठ जाती हूं। मुख्यमंत्री दस मिनट से ज्यादा ऐसे ही बैठी रहीं। उन्होंने सरकारी अधिकारियों की जिम्मेदारी की भावना पर सवाल उठाए। हालांकि, बाद में कुछ सर्दियों के कपड़े एकत्र किए गए। ममता ने उन्हें कुछ लोगों को सौंप दिया और कहा कि वे सारे कपड़े बुधवार को सबके पास पहुंच जाएंगे। मुख्यमंत्री अभी जिले के दौरे पर हैं। इस बीच प्रशासन ने सर्दी के कपड़ों का वितरण शुरू कर दिया।

मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक ने कहा कि बीडीओ के पास जाने के बजाय मंगलवार को कपड़े बांटे जाते तो अच्छा होता। वैसे भी, हमने उस समस्या को हल कर लिया है। हम कैंप लगा कर हिंगलगंज, संदेशखाली व अन्य क्षेत्रों से लोगों को ऑटो व नाव से कैंप में ला रहे हैं और उन्हें चादर, कंबल आदि बांट रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार / भानुप्रिया /गंगा