ओडिसी लोक नृत्य की छटा बिखेरता 'भारत हस्तशिल्प महोत्सव-2022' शुरू
लखनऊ के आशियाना स्थित कांशीराम स्मृति उपवन में हुआ महोत्सव का आरम्भ लखनऊ, 30 नवम्बर ( हि.स़.)। लखन
ओडिसी लोक नृत्य की छटा बिखेरता शुरू भारत हस्तशिल्प महोत्सव-2022


ओडिसी लोक नृत्य की छटा बिखेरता शुरू भारत हस्तशिल्प महोत्सव-2022


लखनऊ के आशियाना स्थित कांशीराम स्मृति उपवन में हुआ महोत्सव का आरम्भ

लखनऊ, 30 नवम्बर ( हि.स़.)। लखनपुरी में बुधवार से भारत हस्तशिल्प महोत्सव शुरू हुआ। प्रगति पर्यावरण संरक्षण ट्रस्ट की ओर से आशियाना स्थित कांशीराम स्मृति उपवन में आरम्भ हुए 'भारत हस्तशिल्प महोत्सव-2022' का उद्घाटन मुख्य अतिथि जगन्नाथ पुरी के प्रधान पुजारी स्वामी मधुसूदन श्रृंगारी, आयोजक संस्था के अध्यक्ष विनोद कुमार सिंह, उपाध्यक्ष एनबी सिंह ने वैदिक मंत्रोच्चार और भगवान जगन्नाथ की आराधना के साथ विधिवत दीप प्रज्जवलित कर किया।

संगीत से सजे कार्यक्रम का आरम्भ पुरी डांस एकेडमी उड़ीसा के कलाकारों ने ओडिसी नृत्य से किया। उड़ीसा के नृत्याचार्य गुरु नारायण पांडेय के नृत्य निर्देशन में सिमरन नारायण पाण्डेय, सौभागिनि स्वाई, अंकिता कानूनगो, कविता परिड़ा, सावित्री महापात्र और हरप्रिया खूंडिया ने ओडिसी नृत्य शैली में पगे दशावतार बैले में भगवान विष्णु के दस अवतारों को नृत्य रूपों में प्रस्तुत किया। भगवान विष्णु के चरणों में समर्पित इस प्रस्तुति के उपरान्त उड़ीसी कलाकारों ने नवदुर्गा नृत्य बैले में भगवती देवी दुर्गा के नव रूपों के दर्शन कराए।

इसके उपरान्त वीणा वरदायिनी डांस ग्रुप के कलाकार दिशा गुप्ता, सोनाल गौर, खुशबू, आदित्य सिन्हा और नीतू निषाद ने वक्रतुण्ड महकाय पर अभिनय पूर्ण नृत्य प्रस्तुत किया। निर्देशन अरुण विशाल ने किया।

आर्गेश डांस एकेडमी के आर्यन, आकाश, शेखर, अर्चना, अनुज, अनमोल, अभिषेक, शिवम और सर्वेश ने संयुक्त रूप से मां तुझे सलाम गीत पर आकर्षक नृत्य प्रस्तुत कर लोगों में देशप्रेम की भावना जागृत की। देश भक्ति से ओतप्रोत इस पेशकश के बाद शालिनी डांस ग्रुप की ओर से अंशीका, रितिका, आशिका, सृष्टि, मुस्कान, ऋचा, माहिरा, शालिनी गुप्ता और दिव्या ने राजस्थानी घूमर नृत्य की मनोरम छटा बिखेरी।

इसी क्रम में निशी मिश्रा के नृत्य निर्देशन में दक्षिता, विदुषी, अंशिका और तान्या ने दक्षिण भारतीय शास्त्रीय नृत्य शैली भरतनाट्यम में पगे गणेश पंचाक्षर, शिव स्तुति और दुर्गा स्तुति में भगवान गणेश, भगवान शिव शंकर और माता दुर्गा की महिमा को रेखांकित किया। कार्यक्रम का संचालन अरविंद सक्सेना और सम्पूर्ण शुक्ला ने किया।

हिन्दुस्थान समाचार/शैलेंद्र