राजनीतिक अनिश्चितता को विरामः अनवर इब्राहिम बने मलेशिया के नए प्रधानमंत्री
कुआलालंपुर, 24 नवंबर (हि.स.)। मलेशिया में खंडित जनादेश से पैदा हुई राजनीतिक अनिश्चितता खत्म हो गयी ह
अनवर इब्राहिम बने मलेशिया के नए प्रधानमंत्री। 


कुआलालंपुर, 24 नवंबर (हि.स.)। मलेशिया में खंडित जनादेश से पैदा हुई राजनीतिक अनिश्चितता खत्म हो गयी है। आम चुनावों में सर्वाधिक सीटें जीतने वाले पाकतन हरपन गठबंधन के नेता अनवर इब्राहिम मलेशिया के नए प्रधानमंत्री नियुक्त किये गए हैं। उन्होंने कामकाज संभाल लिया है।

हाल ही में मलेशिया में आम चुनाव हुए थे। इन चुनावों में किसी एक दल को पूर्ण बहुमत न मिलने के कारण राजनीतिक अनिश्चितता बनी हुई थी। सुधारवादी विपक्षी नेता अनवर इब्राहिम के नेतृत्व वाले पाकतन हरपन गठबंधन को इन चुनावों में सर्वाधिक 82 सीटें मिली थीं। अब आम चुनाव परिणाम आने के पांच दिन बाद नई सरकार के गठन का रास्ता साफ हो गया है। देश के नौ राज्यों के राजाओं के साथ एक विशेष बैठक में विचार विमर्श के बाद मलेशिया के सुल्तान अब्दुल्ला अहमद शाह ने अनवर इब्राहिम को देश का नया प्रधानमंत्री मनोनीत किया है। राजमहल की ओर से जारी एक बयान में इब्राहिम के मनोनयन की जानकारी दी गयी। इब्राहिम मलेशिया के 10वें प्रधानमंत्री होंगे। शाही नियंत्रक फदली शम्सुद्दीन ने बयान जारी कर कहा कि मलय शासकों के विचारों को समझने के बाद सुल्तान ने दातुक सेरी अनवर इब्राहिम को मलेशिया के 10वें प्रधानमंत्री के रूप में नियुक्त करने पर सहमति व्यक्त की है। इसके बाद अनवर इब्राहिम ने स्थानीय समयानुसार शाम पांच बजे प्रधानमंत्री पद का कामकाज संभाल लिया।

मलेशिया के प्रधानमंत्री के बारे में घोषणा अधिकांश दलों द्वारा सुल्तान अब्दुल्ला अहमद शाह के एकता सरकार के गठन के प्रस्ताव पर सहमत होने के बाद की गई। अनवर इब्राहिम और उनके प्रतिद्वंद्वी पेरिकटन नेशनल (पीएन) के प्रमुख मुहीद्दीन यासिन संसद में बहुमत के लिए आवश्यक 112 सांसदों का समर्थन हासिल करने में असमर्थ थे। इसके बाद गुरुवार को यूनाइटेड मलेशियाई नेशनल ऑर्गनाइजेशन (यूएमएनओ) पार्टी ने बारिसन नेशनल (बीएन) गठबंधन की विपक्ष में रहने की पिछली राय से अलग रुख अपनाते हुए एकता सरकार का हिस्सा बनने की इच्छा व्यक्त की। मलेशिया में अन्य राजनीतिक दलों ने भी यूएमएनओ द्वारा अपनाए गए रुख का समर्थन किया।

हिन्दुस्थान समाचार/ संजीव मिश्र


 rajesh pande