संघ के जिला प्रचारक को धमकी, दो गिरफ्तार
कोटा, 26 अक्टूबर (हि.स.)। राजस्थान के हाडौती संभाग में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक जिला प्रचारक को
राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ


कोटा, 26 अक्टूबर (हि.स.)। राजस्थान के हाडौती संभाग में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक जिला प्रचारक को फोन पर धर्म परिवर्तन करने का फरमान सुनाया और ऐसा नहीं करने पर कन्हैयालाल जैसा हश्र करने की धमकी दी गई है। पुलिस ने मामला दर्ज कर दो लोगाें को गिरफ्तार किया है।

संघ के जिला प्रचारक रामेश्वर कुमार ने धर्म परिवर्तन करने के लिए लगातार धमकी भरे फोन मिलने पर बारां जिले के छीपाबडौद थाने में 22 अक्टूबर को शिकायत दर्ज करवाई है। पुलिस के अनुसार संघ प्रचारक को पाकिस्तान के अज्ञात नंबर से फोन कर हत्या करने की धमकी दी गई है। पुलिस अधीक्षक बारां कल्याणमल मीणा मामले में मुकदमा दर्ज करके गहराई से मॉनिटरिंग कर रहे हैं। पुलिस ने धमकी भरे फोन कॉल की तत्परता से जांच के लिये साइबर सेल एवं तकनीकी विशेषज्ञों की मदद ली, जिससे पुलिस ने आरोपितों की पहचान कर एक आरोपित झालावाड जिले की पिड़ावा तहसील में मायाखेडी गांव के 19 वर्षीय गिरिराज दांगी को गिरफ्तार कर लिया है। इस वारदात में शामिल एक बाल अपचारी को भी निरुद्ध किया गया है। दोनों आरोपितों ने संघ प्रचारक को धमकाने के लिये स्कूपिंग एप के माध्यम से कॉल किया था।

संघ का काम छोड़ने की दी थी धमकी

जानकारी के अनुसार इस मामले में आरोपितों ने प्रचारक रामेश्वर को दो बार कॉल किया। दूसरे फोन पर धमकी देते हुये पाकिस्तान से कॉल होने की बात कही गई। जिला प्रचारक को धमकी दी गई कि वे संघ का काम छोड़ दें और धर्म परिवर्तन करके मुस्लिम धर्म अपना लें। ऐसा नहीं करने पर उन्हें रास्ते से उठा लेने की धमकी दी गई। पुलिस के अनुसार दोनों आरोपित संघ प्रचारक रामेश्वर के गांव से ही हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/ अरविंद