Custom Heading

चीन की मदद से पाकिस्तान में बनेगा अंतरिक्ष केंद्र
बीजिंग, 29 जनवरी (हि.स.)। आर्थिक बदहाली से जूझ रहा पड़ोसी पाकिस्तान लगभग हर चीज के लिए चीन पर निर्भर
चीन की मदद से पाकिस्तान में बनेगा अंतरिक्ष केंद्र


बीजिंग, 29 जनवरी (हि.स.)। आर्थिक बदहाली से जूझ रहा पड़ोसी पाकिस्तान लगभग हर चीज के लिए चीन पर निर्भर नजर आ रहा है। चीन के सहयोग से पाकिस्तान का अंतरिक्ष कार्यक्रम को आगे बढ़ाया जा रहा है। इसके तहत चीन और अधिक उपग्रह प्रक्षेपित करने सहित इस्लामाबाद के साथ अंतरिक्ष सहयोग बढ़ाने की योजनाओं की शुक्रवार को घोषणा की है।

''चीन के अंतरिक्ष कार्यक्रम: 2021 परिप्रेक्ष्य'' शीर्षक वाले श्वेत पत्र में पाकिस्तान का कई बार जिक्र किया गया। इसे स्टेट काउंसिल या सेंट्रल कैबिनेट ने जारी किया है। इसमें चीन के बढ़ते अंतरिक्ष उद्योग के लिए भविष्य में उसके विस्तार की योजनाओं को रेखांकित किया गया है। चीन ने चंद्रमा और मंगल के लिए अपना अभियान सफलतापूर्वक पूरा किया है।

शुक्रवार को जारी श्वेत पत्र में कहा गया है कि चीन पाकिस्तान के लिए संचार उपग्रह विकसित करने और पाकिस्तान अंतरिक्ष केंद्र के निर्माण में सहयोग करने को प्राथमिकता देगा। चीन अभी खुद का अंतरिक्ष स्टेशन बना रहा है, जिसके इस साल पूरा हो जाने की उम्मीद है।

श्वेत पत्र में कहा गया है कि चीन अगले पांच वर्षों में और अधिक अंतरिक्ष विज्ञान खोज करेगा। इसके साथ ही पाकिस्तान अब हर समस्या और मुश्किल के हालात में चीन की तरफ टकटकी लगाकर देखने लगा है।

हिन्दुस्थान समाचार/अजीत तिवारी


 rajesh pande