Custom Heading

बंदूक के साथ शांति चाहता है रूस, यूक्रेन पर फरवरी में हमला संभव: अमेरिका
मास्को, 29 जनवरी (हि.स.)। अमेरिका ने रूस पर बंदूक के साथ शांति करने का आरोप लगाया है। अमेरिका के मुत
बंदूक के साथ शांति चाहता है रूस, यूक्रेन पर फरवरी में हमला संभव: अमेरिका


मास्को, 29 जनवरी (हि.स.)। अमेरिका ने रूस पर बंदूक के साथ शांति करने का आरोप लगाया है। अमेरिका के मुताबिक रूस कहता है कि वो युद्ध नहीं चाहता है, लेकिन यूक्रेन की सीमाओं पर एक लाख से अधिक सैनिकों का जमावड़ा एक नए जंग की तरफ इशारा कर रहे हैं। मास्को में अमेरिकी राजदूत जॉन सुलिवन ने शुक्रवार को कहा कि अमेरिका के साथ वार्ता में रूस ने "टेबल पर एक बंदूक" रखी हुई है।

सुलिवन ने हजारों रूसी सैनिकों की तैनाती को "असाधारण" बताया और कहा कि इसे एक सामान्य सैन्य अभ्यास नहीं माना जा सकता है। सुलिवन ने संवाददाताओं से कहा कि यह तब बराबरी की बात होती है जब हम और आप चर्चा या बातचीत कर रहे होते हैं। लेकिन अगर मैं मेज पर बंदूक रखता हूं और कहता हूं कि मैं शांति चाहता हूं, तो यह धमकी होती है, और हम अब यही देख रहे हैं।

उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि रूसी सरकार अपने वचन पर खरी उतरे, और यूक्रेन पर आक्रमण करने की योजना न बनाए। लेकिन तथ्य बताते हैं कि उसके पास ऐसा करने की वर्तमान क्षमता है।

रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने शुक्रवार को पहले रूसी रेडियो स्टेशनों को बताया कि मास्को युद्ध की मांग नहीं कर रहा था। रूसी अधिकारियों का कहना है कि संकट टालने के लिए बातचीत अब भी हो सकती है। हालांकि यूक्रेन की सीमा पर रूस ने सैनिकों का जमावड़ा लगा रखा है।

सुलिवन ने कहा कि वाशिंगटन अब अमेरिका और नाटो द्वारा लिखित दस्तावेजों पर रूस की प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा कर रहा है। उनके मुताबिक इन दस्तावेजों में यूक्रेन संकट से निपटने के लिए एक राजनयिक मार्ग रखा गया है। इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति ने फरवरी में यूक्रेन पर हमले की आशंका जताई है।

व्हाइट हाउस की राष्ट्रीय सुरक्षा प्रवक्ता एमिली होर्ने ने बताया कि राष्ट्रपति बाइडेन ने कहा है कि इस बात की स्पष्ट आशंका है कि रूस फरवरी में यूक्रेन पर चढ़ाई करेगा। उन्होंने यह सार्वजनिक रूप से कहा कि हम इसकी चेतावनी कई महीनों से दे रहे हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/ अजीत तिवारी


 rajesh pande