Custom Heading

पाकिस्तानी अखबारों सेः सीनेट में विपक्ष की हार, स्टेट बैंक संशोधन विधेयक पारित
- फिर दहला बलूचिस्तान, डेरा बुगती के निकट बारूदी सुरंग फटने से 9 लोगों की मौत - प्रधानमंत्री इमरान
पाकिस्तानी अखबारों सेः सीनेट में विपक्ष की हार, स्टेट बैंक संशोधन विधेयक पारित


- फिर दहला बलूचिस्तान, डेरा बुगती के निकट बारूदी सुरंग फटने से 9 लोगों की मौत

- प्रधानमंत्री इमरान की सफाई, रावी अर्बन प्रोजेक्ट कोई हाउसिंग सोसायटी नहीं बल्कि नया शहर बसाने की योजना

नई दिल्ली, 29 जनवरी (हि.स.)। पाकिस्तान से शनिवार को प्रकाशित अधिकांश समाचारपत्रों ने सीनेट में एक बार फिर विपक्षी दलों के मात खाने और विपक्ष की सरकार के साथ डील होने के इल्जाम की खबरें प्रमुखता से प्रकाशित की हैं। स्टेट बैंक संशोधन विधेयक की मंजूरी पर सूचना प्रसारण मंत्री फव्वाद चौधरी ने यूसुफ रजा गिलानी और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी का शुक्रिया अदा किया है। उधर, गिलानी ने एक बयान में कहा है कि सरकार उन्हें बदनाम करने की घिनौनी साजिश रच रही है। सरकार का कहना है कि आईएमएफ से मदद के लिए तमाम रुकावटें दूर हो गई हैं। स्टेट बैंक संशोधन विधेयक 42 मतों के मुकाबले 43 मतों से पास हो गया है।

अखबारों ने बलूचिस्तान में डेरा बुगती के करीब बारूदी सुरंग फटने से 3 सरकारी कर्मचारियों समेत 9 लोगों के मारे जाने की खबरें दी हैं। इस हमले में 9 लोग जख्मी भी हुए हैं। अखबारों ने गृहमंत्री शेख रशीद का एक बयान छापा है, जिसमें उन्होंने कहा है कि आतंकवादी बुजदिलाना कार्रवाई कर के देश की सुरक्षा में लगे संस्थानों के हौसले पस्त नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि बलूचिस्तान की तरक्की और देश की सलामती का मिशन जारी रहेगा। अखबारों ने पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज़ के लीडर शहबाज शरीफ का भी एक बयान छापा है, जिसमें उन्होंने कहा कि आतंकवादी घटनाओं का मकसद हमारी कामयाबियों को नुकसान पहुंचाना है।

अखबारों ने प्रधानमंत्री इमरान खान का एक बयान भी महत्व के साथ प्रकाशित किया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि रावी अर्बन प्रोजेक्ट नया शहर बसाने की योजना है। किसी को गलतफहमी है कि यह हाउसिंग सोसायटी बन रही है। उनका कहना है कि यहां पर 20 से ज्यादा इंडस्ट्री लगाई जाएंगी, जिससे लोगों को कारोबार मिलेगा। अखबारों ने एक बार फिर पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाए जाने की खबरें दी हैं। अखबारों ने बताया कि ऐसी संभावना जताई जा रही है कि पेट्रोल साढ़े पांच रुपये और डीजल नौ रुपये लीटर तक महंगा किया जा सकता है।

अखबारों ने पीडीएम के चमन जलसे में आतंकवादी हमले का अलर्ट जारी किए जाने की खबरें दी हैं। अखबारों ने लिखा है कि पीडीएम के अध्यक्ष मौलाना फजलुर्रहमान की चमन आने पर पाबंदी लगा दी गई है। अखबारों ने केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल होने की संभावनाओं से सम्बंधित खबरें भी दी हैं। अखबारों ने लिखा है कि परवेज खटक को गृह मंत्रालय, फव्वाद चौधरी को रक्षा मंत्रालय और शेख रशीद को सूचना प्रसारण मंत्रालय दिए जाने की संभावनाएं जताई जा रही हैं। यह सभी खबरें रोजनामा दुनिया, रोजनामा खबरें, रोजनामा औसाफ, रोजनामा पाकिस्तान, रोजनामा एक्सप्रेस, रोजनामा नवाएवक्त और रोजनामा जंग ने अपने पहले पन्ने पर छापी हैं।

रोजनामा दुनिया ने एक खबर दी है कि 74 साल बाद करतारपुर कॉरिडोर में दो भाइयों की मुलाकात हुई थी। भारत में रहने वाले सका खान को अपने भाई और उसके परिवार से मिलने के लिए पाकिस्तान ने वीजा जारी किया है। अखबार में बताया कि सका खान को अपने भाई मोहम्मद सिद्दीक और उनके खानदान के दूसरे लोगों से मिलने के लिए यह वीजा जारी किया गया है। दोनों भाइयों ने कुछ दिन पहले 74 साल बाद एक दूसरे से करतारपुर कॉरिडोर में मुलाकात की थी। हाई कमीशन ने कहा है कि करतारपुर कॉरिडोर सरहद के दोनों तरफ रहने वाले लोगों को एक दूसरे के करीब लाने में मदद कर रहा है। सका खान और मोहम्मद सिद्दीक दोनों सगे भाई हैं और यह 1947 में विभाजन के समय बिछड़ गए थे।

रोजनामा एक्सप्रेस ने एक खबर छापी है, जिसमें बताया गया है कि पाकिस्तान ने एक बार फिर स्पष्ट किया है कि वर्तमान हालात में भारत के साथ अच्छे राजनयिक सम्बंधों की बहाली मुमकिन नहीं है। पाकिस्तान का कहना है कि इसके लिए भारत को हालात साजगार बनाना पड़ेगा। भारतीय सोच और उसके कदम क्षेत्र के लिए खतरनाक हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता आसिम इफ्तिखार ने कहा है कि प्रधानमंत्री इमरान खान अगले हफ्ते चीन का दौरा करने जा रहे हैं। सीपैक परियोजना की रफ्तार सुस्त होने का भारत की तरफ से संदेश देना उचित नहीं है। उनका कहना है कि पाकिस्तान ने हमेशा दोनों देशों के बीच सम्बंधों को बेहतर बनाने और भारत के साथ अच्छे ताल्लुकात रखने की ख्वाहिश का इजहार किया है लेकिन भारत की तरफ से कभी भी इसके अच्छे जवाब नहीं दिए गए हैं।

रोजनामा पाकिस्तान ने एक खबर दी है कि भारत सरकार ने हिंदू यात्रियों को जयपुर ले जाने के लिए पीआईए के विशेष विमान को उड़ान भरने की इजाजत देने से इनकार कर दिया है। अखबार ने बताया है कि इस विशेष विमान को शनिवार की सुबह कराची से 160 हिंदू तीर्थ यात्रियों को लेकर जयपुर के लिए रवाना होना था लेकिन भारतीय नागरिक उड्डयन ने इस विशेष विमान को जयपुर एयरपोर्ट पर लैंडिंग करने की अनुमति नहीं दी है।

हिन्दुस्थान समाचार/एम ओवैस/मोहम्मद शहजाद/दधिबल


 rajesh pande