Custom Heading

अवैध कब्जाधिरियों को हटाने के लिए प्रशासन ने कसी कमर
कुल्लू, 28 जनवरी (हि.स.)। जिला प्रशासन द्वारा जिला में सरकारी भूमि पर से नाजायज कब्जों को हटाने के ल
अवैध कब्जाधिरियों को हटाने के लिए प्रशासन ने कसी कमर


कुल्लू, 28 जनवरी (हि.स.)। जिला प्रशासन द्वारा जिला में सरकारी भूमि पर से नाजायज कब्जों को हटाने के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। कुछ समय से अवैध कब्जाधारी पूरी तरह सक्रिय हैं। जहां भी खाली भूमि देखी वहीं अस्थाई शेड बनाकर कारोबार शुरू कर देते हैं। कुल्लू में लगातार बढ़ रहे कब्जों को हटाने के लिए जिला प्रशासन ने कमर कस ली है। प्रशासन की इस कार्रवाई की तैयारी होने की खबर के बाद अवैध कब्जाधारियों में हड़कंप की स्थिति बन गई है।

शुक्रवार को इस संदर्भ में उपायुक्त आशुतोष गर्ग की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया जिसमें अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी प्रशांत सरकेक, एसडीएम विकास शुक्ला, अधीक्षण अभियंता लोक निर्माण विभाग के.के. शर्मा, पुलिस उप अधीक्षक मोहन रावत तथा एनएचएआई के अधिकारी उपस्थित रहे।

उपायुक्त ने कहा कि इसके लिए जिला स्तर पर कमेटी का गठन किया जाएगा। सड़क किनारे सरकारी भूमि से अतिक्रमण को हटाने को लेकर यह विशेष अभियान फरवरी माह के प्रथम सप्ताह से शुरू किया जाएगा। स्थाई ढांचों की उचित प्रकार से निशानदेही करने के बाद हटाया जाएगा। प्रथम चरण में भुंतर से रामशिला तथा रामशिला से मनाली तक सड़क के किनारे अस्थाई तथा स्थाई तौर पर नाजायज तरीके से निर्मित किए गए ढांचों को हटाया जाएगा। इसके बाद जिला के अन्य भागों में भी इस अभियान को चलाया जाएगा। रामशिला से मनाली तक सड़क किनारे रीवर राफिटंग तथा पैरा गलईडिंग के लिए निर्मित किए अस्थाई ढांचे को हटाने के लिए एनएचएआई द्वारा पहले ऐसे लोगों से नाजायज कब्जों को हटाने के लिए बात करने के बाद तीन दिन के भीतर ऐसे ढांचों को हटाया जाएगा।

हिन्दुस्थान समाचार / जसपाल/सुनील


 rajesh pande