Custom Heading

जिलास्तरीय निगरानी समिति की बैठक आयोजित
इटानगर, 27 जनवरी (हि.स.)। अरुणाचल प्रदेश के वेस्ट सियांग जिला के उपायुक्त पेंगा टाटो की अध्यक्षता मे
जिलास्तरीय निगरानी समिति की बैठक आयोजित


इटानगर, 27 जनवरी (हि.स.)। अरुणाचल प्रदेश के वेस्ट सियांग जिला के उपायुक्त पेंगा टाटो की अध्यक्षता में जिला स्तरीय निगरानी समिति की तीसरी बैठक आज उपायुक्त कार्यालय के सम्मेलन हाल में आयोजित की गयी। बैठक में वेस्ट सियांग जिला के निर्माण एवं विकास विभागों द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओं की समीक्षा की गयी।

उपायुक्त ने राज्य और केंद्र सरकार द्वारा सभी आवश्यक योजनाओं के समुचित कार्यान्वयन पर जोर दिया। निर्धारित दिशानिर्देशों के अनुसार समयबद्ध तरीके से काम करने पर उन्होंने जोर दिया।

हालांकि, केंद्र ने सभी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) की सड़कों को पहले 31 मार्च तक पूरा करने की समय सीमा निर्धारित किया था, लेकिन इसे इस वर्ष जुलाई महीने तक बढ़ा दिया गया है। ठेकेदारों को मानसून आने से पहले कार्यों को पूरा करना चाहिए और संबंधित विभाग के फील्ड अधिकारियों को नियमित आधार पर कार्यों की गुणवत्ता की लगातार निगरानी करनी चाहिए। उन्होंने यह भी खेद व्यक्त करते हुए कहा कि चल रहे कार्यों का निरीक्षण के दौरान कई स्थलों पर कार्यों की प्रगति संतोषजनक नहीं है।

उन्होंने संबंधित विभाग से कहा कि वे अपनी तरफ से निर्माण कार्यों में आने वाली छोटी-छोटी स्थानीय समस्याओं पर गौर करें और उन्हें संबंधित प्रशासनिक अधिकारियों को रिपोर्ट करके समस्याओं का समाधान करने का प्रयास करें।

कुछ स्थानों पर पीएचईडी द्वारा शुरू की गई जल जीवन मिशन (जेजेएम) योजनाओं के कार्यों को ठेकेदारों के भरोसे छोड़े बिना विभाग से निरंतर निगरानी की आवश्यकता पर जोर दिया। सभी विभागों ने अपने-अपने विभागों द्वारा ली गई योजनाओं के संबंध में पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन दिया।

बैठक में भाग लेने वाले पंचायत सदस्यों ने भी योजनाओं के कार्यान्वयन पर कुछ मुद्दे उठाए।

हिन्दुस्थान समाचार /तागू/ अरविंद


 rajesh pande