गुप्तकाशी के विश्वनाथ मंदिर में गैर हिंदुओं का प्रवेश वर्जित किया
गुप्तकाशी, 27 अगस्त (हि.स.) गुप्तकाशी के विश्वनाथ मंदिर के सामने लगा साइन बोर्ड सबका ध्यान आकृष्ट कर

गुप्तकाशी, 27 अगस्त (हि.स.) गुप्तकाशी के विश्वनाथ मंदिर के सामने लगा साइन बोर्ड सबका ध्यान आकृष्ट कर रहा है। बोर्ड पर लिखा है कि मंदिर में गैर हिंदुओं का प्रवेश वर्जित है। कुछ दिन पूर्व मंदिर में संपन्न अन्नकूट मेले में गैर हिंदू महिलाओं का मेले में आना लेकिन टीका लगवाने से मना करने के बाद स्थानीय लोगों ऐसे गैर हिंदू समाज के लोगों का बहिष्कार कर रहे हैं।

स्थानीय लोगों का कहना है कि ऐस लोग मंदिर में आकर घंटों बैठे रहते हैं। पानी भी भरते हैं,लेकिन टीका लगवाने से मना करते हैं। विश्व हिंदू परिषद के जिलाध्यक्ष श्रीराम गोस्वामी और गोसेवा रक्षक के जनपद प्रभारी सतीश पाल ने बताया कि मंदिर पौराणिक मान्यताओं को समेटे हुए हिंदू धर्म का प्रबल स्तंभ है। ऐसे में गैर हिंदू समाज के कुछ लोग मंदिर में धड़ल्ले से पानी भरने के साथ-साथ घंटों मंदिर के अंदर रहकर सामाजिक माहौल खराब कर रहे हैं। मंदिर में आने वाली महिलाओं और बेटियों पर तंज कसना इनकी आदतों में शुमार है। हिन्दू धर्म के लोग सरल स्वभाव के होते हैं। वह जल्द ऐसे लोगों पर भरोसा करने लगते हैं।

उन्होंने कहा कि जब कोई हिंदू मस्जिद में नहीं जा सकता है तो गैर हिंदुओं का मंदिर में आना पूर्णतः वर्जित होना चाहिए । उन्होंने कहा कि कुछ गैर हिंदू लोग शौच जाने के बाद हाथ को भी शीतल कुंड में धोते हैं। यह हिंदुओं की धार्मिक आस्था पर कुठाराघात है। उन्होंने कहा कि शीघ्र मंदिर के बाहर गैर हिंदू लोगों के लिए पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि मंदिर के बाहर बोर्ड लगाने की अनुमति देवस्थानम बोर्ड से शीघ्र ली जाएगी । भविष्य में ऐसे गैर हिंदुओं से बचने की भी जरूरत है।

हिन्दुस्थान समाचार/विपिन