गुरुग्राम: देश का बेस्ट खेल टैलेंट हमारे पास है: मनोहर लाल
-बोले हमारी खेल नीति के प्रशंसक कई देश, जल्द आएंगी ओर खेल योजनाएं -29वीं राष्ट्रीय फैंसिंग के विजेता
फोटो नंबर-01: गुरुग्राम में 29वीं राष्ट्रीय फैंसिंग प्रतियोगिता के विजेता खिलाडिय़ों के साथ मुख्यमंत्री मनोहर लाल।


-बोले हमारी खेल नीति के प्रशंसक कई देश, जल्द आएंगी ओर खेल योजनाएं

-29वीं राष्ट्रीय फैंसिंग के विजेताओं को आशीर्वाद दिया

गुरुग्राम, 30 दिसम्बर (हि.स.)। मुख्यमन्त्री मनोहरलाल ने कहा कि हरियाणा खेल के क्षेत्र में अपनी धाक जमा कर पूरी दुनिया के नक्शे पर आ गया है। हमें अपने अपनी खेल प्रतिभाओं पर गर्व है। निकट भविष्य में हरियाणा में आयोजित खेलो इंडिया में देश के कोने कोने से हजारों खिलाड़ी भाग लेंगे, जिससे हमारे खिलाडिय़ों का भी होंसला बढ़ेगा। वे गुरुवार को यहां स्वर्ण जयंती पीडब्ल्यूडी विश्राम गृह में 29वीं राष्ट्रीय फेंसिंग प्रतियोगिता की विजेताओं को मेडल पहनाकर आशीर्वाद देने के पश्चात संबोधित कर रहे थे।

इस अवसर पर फैंसिंग हरियाणा के अध्यक्ष एनके सोलंकी व भारतीय फेंसिंग संघ की उपाध्यक्ष सुरेखा खत्री व आयोजन अध्यक्ष वी के बेनिवाल ने उन्हें स्मृति चिन्ह भेंट किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार प्रदेश के तलवारबाजों ने राष्ट्रीय फैंसिंग प्रतियोगिता में दोनों वर्गों में ओवरऑल ट्रॉफी जीतकर हरियाणा को 14 मेडल देने का जो इतिहास रचा है, वो प्रदेश में पहली बार हुआ है। इसके लिए मुख्यमंत्री ने सब खिलाडिय़ों के अभिभावकों को भी शुभकानाएं दीं। उन्होंने कहा कि हरियाणा खेल हब के रूप में दुनिया के नक्शे पे उभर कर आ रहा है। प्रदेश की खेल नीति को अब प्रदेशों के बाद कई देशों से प्रशंसा मिली है ।

इस मौके पर मुख्यमंत्री का आभार प्रकट करते हुए अंतरराष्ट्रीय रेफरी व राष्ट्रीय कोच अशोक खत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा भेजे वीडियो संदेश से खिलाडिय़ों में जोश भर गया, जिसके चलते हरियाणा पहली बार देश में अव्वल स्थान पर रहा है। उन्होंने कहा कि ओलम्पिक सनसनी भवानी देवी ने स्वयं मुख्यमंत्री से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान उनकी खेल नीति की प्रशंसा की। प्रतियोगिता का शुभंकर लॉन्च भी स्वयं मुख्यमंन्त्री ने किया था। इस मौके पर फैंसिंग के प्रदेश उपाध्यक्ष जितेंद्र जागलान, अंतरराष्ट्रीय रेफरी अनिल व अश्विनी खत्री, अमित, संदीप सिहाग समेत अनेकों अभिभावकगण उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/ईश्वर/संजीव


 rajesh pande