Custom Heading

यमुनानगर में बूचड़खाना के विरोध में किसानों व ग्रामीणों ने मोर्चा खोला
यमुनानगर, 27 नवम्बर (हि.स.)। रादौर थाने के अंतर्गत आने वाले गांव कांजनू में खोले जाने वाले बूचड़खाने
बूचछखाना के विरोध में


यमुनानगर, 27 नवम्बर (हि.स.)। रादौर थाने के अंतर्गत आने वाले गांव कांजनू में खोले जाने वाले बूचड़खाने के विरोध में ग्रामीणों ने धरना प्रदर्शन किया। शनिवार को बडी संख्या में किसानों सहित ग्रामीण इकट्ठा हुए और प्रशासन को इसे रद्द करने की मांग की।

संस्कृति बचाओ संघर्ष समिति के अध्यक्ष जयप्रकाश कंबोज ने बताया कि 19 नवंबर को गांव में इसको लेकर एक बड़ी महापंचायत हुई थी जिसमें सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया था कि बूचड़खाना यहां पर नहीं खुलने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि जब तक बूचड़खाना यहां से हटाने की मांग पूरी नही हो जाती तब तक उनका संघर्ष जारी रहेगा।

इस मौके प भाकियू के जिला अध्यक्ष सुभाष गुर्जर ने कहा कि सरकार की तानाशाही और मनमर्जी के तरीके से गांव में किसी को भी बूचड़खाना खोलने की इजाजत दी जाएगी। उन्होंने कहा कि जिसके लिए किसान की ओर से अपना भरपूर सहयोग दिया जाएगा। सुभाष गुर्जर ने कहा कि यह हमारा कानूनी अधिकार है की समाज के विरुद्ध किसी भी कार्य को रोका जा सके।

हिन्दुस्थान समाचार/अवतार/संजीव


 rajesh pande