Custom Heading

महाराष्ट्र को पश्चिम बंगाल नहीं बनने देंगे: देवेंद्र फडणवीस
विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि वे अपने शरीर में खून की अंतिम बूंद रहने तक महाराष्ट्र को पश्चिम बंगाल नहीं बनने देंगे।

 
महाराष्ट्र को पश्चिम बंगा

 
मुंबई, 16 अक्टूबर (हि. स.)। विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि वे अपने शरीर में खून की अंतिम बूंद रहने तक महाराष्ट्र को पश्चिम बंगाल नहीं बनने देंगे। उन्होंने कहा कि संविधान बदलने की साजिश को भी सफल नहीं होने दिया जाएगा।

देवेंद्र फडणवीस ने शनिवार को दशहरा सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हत्याएं हो रही हैं। कानून व्यवस्था की स्थिति खराब है। अपहरण एवं रंगदारी के डर से व्यापारी अपना व्यापार लेकर अन्य राज्यों में जा रहे हैं। अगर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र की स्थिति इस तरह की बनाना चाहते हैं ,तो ऐसा महाराष्ट्र में हरगिज होने नहीं दिया जाएगा।

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि वे अंतिम सांस रहने तक इसका विरोध करते रहेंगे। देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि मुख्यमंत्री ठाकरे कम्युनिस्ट एवं वामपंथी लोगों से मिलकर डॉ. भीमराव आंबेडकर की ओर से बनाए गए संविधान को भी बदलने की साजिश कर रहे हैं। इस साजिश को भी किसी भी कीमत पर सफल नहीं होने दिया जाएगा। फडणवीस ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बार-बार सरकार गिराने की धमकी देने का आरोप लगा रहे हैं, सरकार कब गिरेगी ,इन लोगों को पता ही नहीं चलेगा। उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे की मुख्यमंत्री बनने की महत्वाकांक्षा थी। वे मुख्यमंत्री बने , अब लोगों के हित का काम करें।

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि मुख्यमंत्री केंद्र सरकार पर केंद्रीय जांच एजेंसियों का दुरुपयोग करने का आरोप लगा रहे हैं। सच यह है कि अगर इन एजेंसियों का उपयोग किया गया तो राज्य का आधा मंत्रिमंडल जेल में पहुंच जाएगा। देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कभी भी केंद्रीय जांच एजेंसियों का उपयोग नहीं करते। महाविकास आघाड़ी सरकार में दलाली का ही एकतरफा धंधा चल रहा है। यह हाल ही में आयकर विभाग के छापों से साफ हो गया है। इसी तरह नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) पर उठाए गए सवाल का जवाब देते हुए देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि ड्रग से युवा पीढ़ी बर्बाद हो रही है। मुख्यमंत्री बताएं कि वे युवापीढ़ी को बचाने वालों के साथ खड़े हैं अथवा ड्रग बेचने वालों के साथ हैं। देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि उद्धव ठाकरे को आत्मचिंतन करना चाहिए कि आखिर नारायण राणे, राज ठाकरे पार्टी छोडक़र क्यों चले गए।

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि शिवसेना बेईमानी कर राज्य की सत्ता में हैं और उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बने हैं। उन्हें अब भाजपा पर अनायास कीचड़ उछालने की बजाय जनहित के काम करना चाहिए।

हिन्दुस्थान समाचार / राजबहादुर


 rajesh pande