Custom Heading

''जन गण मन..'' के साथ अमेरिका में शुरू हुआ भारत-अमेरिका का सैन्य अभ्यास
- उद्घाटन समारोह में भारत और अमेरिका के राष्ट्रीय ध्वज भी फहराए गए - दोनों सेनाओं के 750 सैनिक हिस्
जन गण मन..' के साथ अमेरिका में शुरू हुआ भारतीय सेना के साथ युद्धाभ्यास


- उद्घाटन समारोह में भारत और अमेरिका के राष्ट्रीय ध्वज भी फहराए गए

- दोनों सेनाओं के 750 सैनिक हिस्सा ले रहे हैं आतंकवाद के खिलाफ प्रशिक्षण में

नई दिल्ली, 16 अक्टूबर (हि.स.)। अमेरिका के अलास्का में स्थित संयुक्त बेस एल्मेंडॉर्फ रिचर्डसन में भारत और अमेरिकी सेनाओं के बीच शुक्रवार को 17वां युद्धाभ्यास शुरू हुआ। भव्य उद्घाटन समारोह में दोनों देशों के राष्ट्रगान ''जन गण मन'' और ''द स्टार स्पैंगल्ड बैनर'' बजाने के साथ-साथ राष्ट्रीय ध्वज भी फहराए गए।

इस अभ्यास में 40वीं कैवलरी रेजिमेंट के फर्स्ट स्क्वाड्रन (एयरबोर्न) के 300 अमेरिकी सैनिक और भारतीय सेना के 7 मद्रास इन्फैंट्री बटालियन ग्रुप के 350 सैनिक भाग ले रहे हैं। 14 दिनों के इस प्रशिक्षण में आतंकवाद के खिलाफ अभियान के रूप में संयुक्त प्रशिक्षण जैसी गतिविधियां शामिल की गई हैं।

उद्घाटन समारोह के दौरान अमेरिकी सेना में अलास्का के कमांडर मेजर जनरल ब्रायन आइफलर ने औपचारिक रूप से भारतीय दल का स्वागत किया। उन्होंने दोनों टुकड़ियों से अभ्यास के प्रशिक्षण उद्देश्यों को सफलतापूर्वक पूरा करने लिए सामंजस्य और अंतर-संचालन में सुधार पर ध्यान केंद्रित करने का आग्रह किया। उन्होंने दोनों देशों के सैनिकों से एक-दूसरे के अनुभवों से सीखने की आवश्यकता पर जोर दिया।

सैन्य प्रवक्ता के अनुसार इस संयुक्त अभ्यास से दोनों सेनाओं को एक-दूसरे के बारे में बेहतर तरीके से जानने, व्यापक अनुभव साझा करने और सूचना के आदान-प्रदान के माध्यम से स्थिति के अनुसार जागरुकता बढ़ाने में सुविधा होगी। इससे उन्हें संयुक्त राष्ट्र के कार्यक्षेत्र के अंतर्गत शीतकालीन जलवायु परिस्थितियों जैसे पहाड़ी इलाकों में बटालियन स्तर पर संयुक्त अभियान चलाने में भी मदद मिलेगी।

हिन्दुस्थान समाचार/सुनीत/पवन


 rajesh pande