Custom Heading

पश्चिमी राजस्थान के ऊंट पालकों ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को बताई समस्याएं
जयपुर, 16 अक्टूबर (हि.स.)। पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर, जैसलमेर, पाली सहित कई जिलों के ऊंट पालकों ने
पश्चिमी राजस्थान के ऊंट पालकों ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को बताई समस्याएं


पश्चिमी राजस्थान के ऊंट पालकों ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को बताई समस्याएं


जयपुर, 16 अक्टूबर (हि.स.)। पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर, जैसलमेर, पाली सहित कई जिलों के ऊंट पालकों ने शनिवार को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां से प्रदेश पार्टी मुख्यालय में मुलाकात की और अपनी समस्याएं बताई।

ऊंट पालकों के संघर्ष के लिए गठित लोकहित पशुपालक संस्थान सादड़ी के निदेशक हनुवंतसिंह राठौड़ और बाड़मेर से भंवरलाल चौधरी ने बताया कि पंचायतीराज चुनाव के समय ऊंट पालकों ने सतीश पूनियां से मिलकर अपनी समस्याएं रखीं थीं, तब इन्होंने हमारी समस्याओं को राज्य सरकार तक पहुंचाया था, अब पुन: समस्याओं को राज्य सरकार तक पहुंचाने के संबंध में चर्चा कर निवेदन किया है, जिस पर डॉ. पूनियां ने हमें पूरा भरोसा दिलाया है।

राठौड़ ने बताया कि ऊंट पालकों की बात राज्य सरकार तक पहुंचाने के लिए सतीश पूनियां का आभार प्रकट किया। साथ ही कहा कि ऊंटों के संबंध में 2015 में पारित कानून को ऊंट हितैषी बनाने के लिए आवश्यक संशोधन किया जाना जरूरी है ताकि उनकी बिक्री अन्य राज्यों में संभव हो सके।

उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार द्वारा संचालित ऊंट विकास योजना जिसमें ऊंटनी के बच्चे देने पर 10 हजार रुपये प्रोत्साहन राशि देने का प्रावधान था, वह कांग्रेस सरकार ने बंद कर दी। इसको लेकर ऊंट पालकों ने सतीश पूनियां से संवाद कर इस योजना को फिर से शुरू कराने एवं प्रोत्साहन राशि 20 हजार रुपये किये जाने के बारे में राज्य सरकार को अवगत कराने का निवेदन भी किया।

इस दौरान हनुवंत सिंह राठौड़, भंवर लाल चौधरी, बगडूराम बिश्नोई, अनोप सिंह भाटी जैसलमेर, बीकानेर से स्वरूप सिंह सोढा, पाली से बालाराम रायका इत्यादि उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/सुनीता कौशल/ ईश्वर


 rajesh pande