Custom Heading

आयकर विभाग के ई-फाइलिंग पोर्टल में लगातार हो रहा सुधार : सलिल पारेख
नई दिल्ली, 13 अक्टूबर (हि.स.)। आयकर विभाग के ई-फाइलिंग पोर्टल में लगातार सुधार हो रहा है। इंफोसिस के
आयकर विभाग के ई-फाइलिंग का फाइल फोटो  


नई दिल्ली, 13 अक्टूबर (हि.स.)। आयकर विभाग के ई-फाइलिंग पोर्टल में लगातार सुधार हो रहा है। इंफोसिस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सलिल पारेख ने बुधवार को कहा कि उनकी कंपनी के द्वारा विकसित आयकर विभाग के नए पोर्टल में लगातार सुधार हो रहा है, जिस पर 1.9 करोड़ रिटर्न दाखिल किए जा चुके हैं।

आयकर रिटर्न दाखिल करने के लिए ई-फाइलिंग के नए पोर्टल में तकनीकी खामियों के कारण आलोचना झेलने वाली कंपनी के सीईओ ने कहा कि करदाताओं की चिंताओं को लगातार दूर किया जा रहा है। सलिल पारेख ने दूसरी तिमाही के लिए कंपनी के नतीजों की घोषणा के बाद संवाददाताओं के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि हम आयकर प्रणाली में निरंतर सुधार देख रहे हैं।

इंफोसिस सीईओ ने कहा कि कल तक हमारे पास 1.9 करोड़ से ज्यादा रिटर्न के आंकड़ें थे, जो नई प्रणाली का उपयोग करके दाखिल किए गए हैं। उन्होंने कहा कि आज आयकर रिटर्न फॉर्म-1 से 7 सभी काम कर रहे हैं। पारिख ने कहा कि अधिकांश वैधानिक फॉर्म सिस्टम पर उपलब्ध है। हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि ये तकनीकी गड़बड़ियां कब तक पूरी तरह से दूर हो जाएंगी और ई-फाइलिंग पोर्टल पर सभी सुविधाएं आयकर रिटर्न फाइल करने वालों के लिए उपलब्ध होंगी।

सलिल पारेख ने कहा कि 3.8 करोड़ उपयोगकर्ताओं ने विभिन्न लेन-देन पूरे किए हैं और हर दिन 2-3 लाख आयकर रिटर्न दाखिल किए जा रहे हैं। गौरतलब है कि देश की दूसरी सबसे बड़ी सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी इंफोसिस का एकीकृत शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 11.9 फीसदी बढ़कर 5,421 करोड़ रुपये रहा है।

हिन्दुस्थान समाचार/प्रजेश शंकर


 rajesh pande